1. पशुपालन

बकरी पालन समेत पशुपालन से जुड़े कई व्यवसाय के लिए मांगे गए आवेदन, इस प्रक्रिया से करें आवेदन

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Animal Husbandry Training

Animal Husbandry Training

पशुपालन एक ऐसा व्यवसाय बन चुका है, जो किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है. इसलिए, केंद्र व राज्य सरकारें भी पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए तमाम योजनाएं चला रही हैं.

इसी क्रम में मत्स्य, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय के अधीन पशुपालन एवं डेयरी विभाग की तरफ से नवीन केन्द्रीय प्रवर्तित योजना व राष्ट्रीय पशुधन मिशन के अंतर्गत पोल्ट्री, भेड़ पालन, बकरी पालन, चरी एवं चारा विकास को लेकर तमाम योजनाएं चलाई जा रही हैं.

इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि पशुपालन और चारा उत्पादन में उद्यमिता विकास हो. इसके साथ ही भेड़ और बकरियों की नस्लों में भी सुधार हो. इसके अलावा चारा उत्पादन में सुधार हो. आइए आपको इस योजना से जुड़ी अधिक जानकारी देते हैं.

कौन कर सकता है आवेदन? (Who can apply?)

इस योजना के लिए व्यक्तिगत, एफ.पी.ओ, स्वयं सहायक समूह, संयुक्त समूह (जे.एल.जी.) तथा सेक्शन 8 के तहत कंपनियों से उद्यमिता विकास कार्यक्रमों के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं. इसके साथ ही ग्रामीण कुक्कुट उद्यमिता माडल-लो इनपुट टेक्नॉलॉजी वाले कम से कम 1000 पेरेंट पक्षी के फार्म के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं.

इसके अलावा प्रति सप्ताह 3000 हैचिंग अण्डा से सेटिंग की क्षमता वाली हैचरी, प्रति सप्ताह 2000 चूजों की बूडिंग की क्षमता वाली नर्सिंग यूनिट (मदर यूनिट) के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं.

इतना ही नहीं, भेड़ पालन, बकरी प्रजनन इकाई- 500 मादा + 25 नर की इकाई स्थापित करने के लिए चारा उत्पादन इकाई- साइलेज, फॉडर ब्लॉक निर्माण इकाई और संपूर्ण मिश्रित आहार प्लांट स्थापित करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं.

आवेदन प्रक्रिया (Application Process)

इस योजना संबंधित परियोजनाओं का विस्तृत विवरण, आवेदन-पत्र, पात्रता और अनुदान के लिए पात्र मशीन और उपकरणों की सूची समेत अन्य जानकारी के लिए http://mpdah.gov.in/ पर जाकर विजिट करें.

अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आधिकारिक वेबसाइट https://nlm.udyamimitra.in/ पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. यहां आवेदन पत्र भरना होगा. इसके बाद अपने दस्तावेज को अपलोड करना होगा.

आवेदन की अंतिम तारीख (Last Date of Application)

ध्यान रहे कि इस योजना के तहत आवेदन करने की अंतिम 30 अक्टूबर तक की है. इसलिए इच्छुक उम्मीदवार अपना आवेदन 30 अक्टूबर तक एजेंसी (संचालनालय, पशुपालन एवं डेयरी विभाग म.प्र. भोपाल) को भेज दें.

प्रशिक्षण के लिए करें आवेदन (Apply for training)

पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए पशुपालकों को 26 से 28 अक्तूबर तक बकरी पालन का प्रशिक्षण दिया जाएगा. इसके साथ ही पॉल्ट्री फार्मिंग का प्रशिक्षण 21 से 23 दिसबंर तक दिया जाएगा. इसके अलावा चारा विकास 16 से 18 नंवबर तक और 7 से 9 दिसंबर तक फॉडर ब्लॉक के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा.

आवेदक प्रशिक्षण के लिए नजदीकी पशु चिकित्सा संस्था, उप संचालक कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं. आवेदन समय पर अपना नाम दें, ताकि प्रशिक्षण के लिए नाम महाविद्यालय को भेजे जा सकें. बता दें कि इस प्रशिक्षण के लिए किसानों को शुल्क भी देना होगा.

आप इस योजना संबंधित दिशा निर्देश विभाग की वेबसाइट www.dahd.nic.inhttp://mpdah.gov.in/ पर उपलब्ध हैं. इच्छुक किसान इस योजना का लाभ उठाने के लिए वेबसाइट पर जाकर जानकारी हासिल कर सकते हैं.

English Summary: Applications are invited for animal husbandry business

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters