अच्छा लगता हैं किसानों से मिलना - नवाज़ुदीन सिद्दीकी

अपनी अलग पहचान बनानी है, कुछ अलग करना हैं, इस दुनिया की भीड़ में सबसे अलग चलना हैं, ये जूनून हर किसी के मन में होता है| लेकिन संघर्ष नाम का शब्द बहुत ही अजीब हैं| संघर्ष में इन्सान या तो आगे बढ़ जाता है या फिर फिसल जाता है| लेकिन जो कडा संघर्ष करते है, वो हमेशा ही आगे बढ़ जाते है| इसी में एक बड़ा नाम आता है, एक ऐसे शख्स का जिन्होंने अपनी जिंदगी के हर एक पहलू पर कड़ा संघर्ष किया, फिर चाहे उनके कैरियर का सवाल हो, या फिर उनकी निजी जिंदगी का सवाल हो| आज सफलता के कदम चूमने के बाद भी वो अपनी मिटटी, अपने खेत और किसान मित्रो के साथ जुड़े हुए है| हम बात कर रहें हैं, जाने-माने कलाकार नवाज़ुदीन सिद्दीकी की| ये वो नाम है जो असाधारण होते हुए भी साधारण रहना पसंद करते हैं | नवाज़ुदीन ने लम्बे समय तक कडा संघर्ष कर सफलता पाने के बाद आज भी अपने गाँव की मिटटी से नाता नहीं तोडा है, हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा नवाज़ुदीन सिद्दीकी को समाजवादी किसान एवं सर्वहित बीमा योजना का ब्रांड एम्बेसडर बनाया हैं| इस पर कृषि जागरण ने नवाज़ुदीन सिद्दीकी से मुलाकात कर खास बातचीत की पेश है, कुछ प्रमुख अंश|

एक जाने-माने कलाकार होते हुए भी आप अपने गाँव की मिटटी से जुड़े हुए हैं, कैसा महसूस होता है?

यह बात सही है कि मै एक कलाकार हूँ, जहाँ तक मेरे गाँव की मिटटी से जुड़ने का सवाल है| तो यही पर मै पैदा हुआ यही मेरा घर इसलिए इससे तो मै हमेशा जुडा रहूँगा| मुझे अच्छा लगता है अपने किसान दोस्तों से मिलना और गाँव वालों से मिलना| एक सुकून मिलता है सबके साथ रहना अच्छा लगता है| 

आपको लगता एक ग्रामीण क्षेत्र से होने के नाते किसानों को आपसे कुछ प्रेरणा मिलती है|

एक कलाकार होने के साथ-साथ मै एक किसान भी हूँ और किसान तो खुद दूसरों के लिए एक प्ररेणा है| जो दिन रात खेत में मेहनत कर फल का इंतजार करता है| इसलिए मै तो कहूँगा किसानों से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए| क्योंकि देश की जनता का पेट इन किसानों की मेहनत के बाद ही भरता है| इसलिए हमारे किसान ही हमारी प्रेरणा है|

भारतीय किसानों की आर्थिक स्थिति को किस नजरिए से देखते है? 

सभी जानते है भारत पहले से ही कृषि प्रधान देश रहा है| भारत में कृषि का क्षेत्र बहुत बड़ा है, लेकिन इसके साथ यह भी हमें स्वीकार करना होगा की देश में किसानों के हालात ठीक नहीं है, जिसके पीछे कई कारण है| लगातार पानी का स्तर कम होता जा रहा है, यह भविष्य के लिए चिंता की बात है| इससे न सिर्फ किसानों को नुक्सान होगा बल्कि उद्योग जगत और आम जनता को भी भविष्य में परेशानी हो  सकती है| इससे निपटने के लिए हमारे किसानों को तैयार रहना होगा, आने वाली पीढ़ी के विषय में सोचना होगा| क्योंकि हम तो खेती कर रहें हैं, लेकिन आने वाली पीढ़ी किस तरह से सही खेती कर पाएगी| किसानों की इस स्थिति को सुधारने के लिए सरकार को छोटे किसानों के लिए एक सपोर्ट सिस्टम बनाना होगा| जिससे कि उनकी आर्थिक स्थिति सुधर सकें| 

आप जब भी अपने घर आते है, अपने खेतों में कुछ न कुछ कार्य करते ही रहते हैं, ऐसा क्यों?

मै एक किसान  परिवार से ताल्लुक रखता हूँ, बचपन से खेतो में रहा हूँ, इसलिए अच्छा लगता है अपने खेतों में काम करना| पिछले दिनों में हमने खेत में आधुनिक सिंचाई तकनीक को स्थापित किया था| जिसमें की फसल के ऊपर से सिंचाई की जाती है, इस पर अभी काम चल रहा है| यदि यह सफल होता है तो हम इसको दुसरे किसानों तक भी पहुंचाने की कोशिश करेंगे| अभी हमारे खेत में सरसों बुवाई की तयारी चल रही है| मुझे अपने खेतों से प्यार है, यही कारण है कि मै घर आने के बाद खेतों में कुछ न कुछ नया करता रहता हूँ|  

हाल ही में आपको समाजवादी फसल एवं सर्वहित बीमा योजना का ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया है, इसको लेकर क्या तैयारिया है|

सरकार द्वारा इस योजना का ब्रांड एम्बेसडर बनाये जाने के बाद मै अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं| यह बीमा योजना हर एक किसान की जरुरत है| इसके लिए कोशिश करूँगा की यह योजना हर एक किसान तक पहुंचे ताकि उनको इसका सीधा-सीधा लाभ मिल सके| अकसर किसानों को फसलों में नुकसान उठाना पड़ता हैं इसके लिए जरुरी है की अधिक से अधिक किसान इस योजना का लाभ ले| इसके लिए अधिक से अधिक किसानों को जागरूक करने की कोशिश करूँगा |

दूसरे कलाकारों की भांति भी किसानों के लिए कुछ कदम उठा रहें हैं?

जैसा की मै पहले भी कह चुका हूँ कि किसानों का देश के विकास में बहुत अहम योगदान है| इसलिए उनको जितना सपोर्ट किया जाए उतना कम है| जहाँ तक मेरे किसानों को सपोर्ट करने का सवाल है| जितना मुझसे होगा मै किसानों को पूरी तरह से सपोर्ट करने के लिए हमेशा तैयार हूँ|

किसानों को क्या सन्देश देना चाहेंगे ?

देश के किसानों के लिए तो मै बस इतना ही कहना चाहूँगा की वो लगातार खेतों में मेहनत कर रहें हैं, उनको अच्छा फल जरुर मिलेगा| किसान बिल्कुल भी अपना आत्मविश्वास कम न करें और कोशिश करें और कृषि की नई जानकारियों से हमेशा अपडेट रहें और नई तकनीकों को अपनाए 

Comments