MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

गाय-भैंस खरीदने और पोल्ट्री फार्म के लिए मिलेगी 45 हजार रुपए की सब्सिडी, जल्द करें ऐसे आवेदन

आज के समय में खेती के साथ-साथ पुशपालन को बढ़ावा दिया जा रहा है, ताकि किसान डबल मुनाफा कमा पाएं. इसके लिए केंद्र व राज्य सरकारें भी योजनाएं चला रही हैं. इसी क्रम में केरल सरकार ने एक अनोखा कदम उठाया है.

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Subhiksha Keralam scheme
Subhiksha Keralam scheme

आज के समय में खेती के साथ-साथ पुशपालन को बढ़ावा दिया जा रहा है, ताकि किसान डबल मुनाफा कमा पाएं. इसके लिए केंद्र व राज्य सरकारें भी योजनाएं चला रही हैं. इसी क्रम में केरल सरकार ने एक अनोखा कदम उठाया है. दरअसल, केरल सरकार ने राज्य के नागरिकों के लिए सुभिक्षा केरलम स्कीम (Subhiksha Keralam scheme) शुरू की है. इसके स्कीम से जुड़ने के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म रिलीज किए जा चुके हैं. 

इसके तहत किसानों को वित्तीय सहायता दी जाएगी. इसका लाभ उठाने के लिए किसानों को पहले केरल सरकार के एक खास पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसके लिए किसान http://aims.kerala.gov.in/ पर विजिट कर सकते हैं. इसके साथ ही पोर्टल पर किसान अपनी पात्रता भी चेक कर सकते हैं कि वे इस स्कीम का लाभ लेने के हकदार हैं या नहीं.

सुभिक्षा केरलम स्कीम का उद्देश्य (Objective of Subhiksha Keralam Scheme)

यह स्कीम पूरी तरह कृषि से जुड़ी है. इसका मुख्य मकसद यह है कि किसानों को वित्तीय सहायता मिल सके. इसके साथ ही राज्य में खाद्य सुरक्षा स्कीम को भी बल दिया जाए. इस योजना के जरिए कोरोना महामारी से जूझते किसानों को आर्थिक सहायता मिल पाएगी. इस स्कीम से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने और आत्मनिर्भर बनाने पर जोर दिया जा रहा है. इस योजना के जरिए  किसान खेती, पशुपालन, मत्स्यपालन, डेयरी और पोल्ट्री फार्म खोलकर मुनाफा कमा सकते हैं. 

सुभिक्षा केरलम स्कीम की खासियत (Features of Subhiksha Keralam Scheme)

इस स्कीम की सबसे बड़ी खासियत सब्सिडी है. इस स्कीम के जरिए केरल सरकार दुधारू गाय या भैंस के लिए 60000 रुपए की दर से सब्सिडी प्रदान करती है. इसके आधार पर जनरल कैटगरी के लोगों को 50 प्रतिशत की सब्सिडी मिलती है. 

यानि जनरल कैटगरी के लोग 30 हजार रुपए की सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं. वहीं, दुधारू गाय या भैंस खरीद सकते हैं. अगर कोई अनुसूचित जनजाति का है, तो उनके लिए सब्सिडी की दर 75 प्रतिशत तय की गई है.  इसके अलावा, किसान पोल्ट्री, मत्स्यपालन, छोटे डेयरी फार्म, चारे की खेती आदि के लिए सब्सिडी प्राप्त सकते हैं.

सुभिक्षा केरलम स्कीम का लाभ लेने के लिए शर्तें (Conditions to take advantage of Subhiksha Keralam Scheme)

  • केरल का निवासी होना अनिवार्य है.

  • व्यक्ति के पास अपना कोई फार्म होना चाहिए.

  • सब्सिडी ट्रांसफर करने के लिए आवेदक का कोई बैंक अकाउंट होना चाहिए.

सुभिक्षा केरलम स्कीम के लिए जरूरी दस्तावेज (Documents Required for Subhiksha Keralam Scheme)

  • केरल का एड्रेस प्रूफ जैसे कि राशन कार्ड जरूरी है.

  • पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड अनिवार्य है.

  • अगर आप अनुसूचित जनजाति से हैं, तो जाति प्रमाण पत्र लगेगा.

  • बैंक की डिटेल देना है, जिसमें सब्सिडी का पैसा ट्रांसफर होगा.

  • आवेदक किसान है, तो इसके प्रूफ के लिए खेत के दस्तावेज लगेंगे.

सुभिक्षा केरलम स्कीम में कैसे करें अप्लाई (How to apply for Subhiksha Keralam Scheme)

  • सबसे पहले आपको https://www.aims.kerala.gov.in/ पर जाना होगा.

  • अब ‘सुभिक्षा केरलम’ नाम के विकल्प पर क्लिक करना है.

  • इसके बाद एक नया टैब मिलेगा, जिसमें आपको न्यू रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करना है.

  • इसके तुरंत बाद स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा.

  • यहां आपको मोबाइल नंबर के साथ सभी जानकारी का विवरण भरना है.

  • अब आपको अपने नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा.

  • आपको रजिस्ट्रेशन पेज पर री-डायरेक्ट होने के लिए ओटीपी दर्ज करना है.

  • फिर एक और फॉर्म दिखाई देगा, जहां आपको बैंक खाते के विवरण के साथ मूल विवरण भरना है.

  • इसके बाद आपको अपना खाता बनाने का विकल्प मिलेगा. इसके लिए आपको ‘उपयोगकर्ता बनाएं’ पर क्लिक करना है.

  • वहां आपको पंजीकरण पूरा करने के लिए पासवर्ड देना है.

  • इस तरह किसान ‘लिंक’ पर जाकर लॉगिन कर सकते हैं.

जानकारी के लिए बता दें कि केरल सरकार राज्य में खेती को बढ़ावा देना चाहती है. इसके साथ ही राज्य को खाद्यान्न पर आत्मनिर्भर बनाने की तैयारी कर रही है. इसके लिए किसानों को प्रोत्साहित किया जा रहा है, साथ ही फसली विशेष लोन दिया जा रहा है.

English Summary: Subsidy for buying cow buffalo under Subhiksha Keralam scheme Published on: 01 November 2021, 01:51 IST

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News