Government Scheme

Stand-Up India Loan Scheme: स्टैंड अप इंडिया लोन स्कीम के तहत लोन प्राप्त करने के लिए पात्रता, जरूरी दस्तावेज और शर्तें

personal loan for scheduled caste

स्टैंड-अप इंडिया स्कीम (Stand Up India Scheme)  की शुरुआत अगस्त 2015 में शुरू गयी थी. इस योजना का उद्देश्य अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति और महिला उद्यमियों (Scheduled Caste/Scheduled Tribe/women entrepreneurs) में उद्यमशीलता को बढ़ावा देना हेतु बैंक लोन उपलब्ध करना है. इस योजना के तहत SC/ ST या महिला उद्यमियों द्वारा नए प्रोजेक्ट या परियोजनाओं (greenfield project) के लिए 10 लाख रुपये से 1 करोड़ रुपये तक का लोन दिया जाता है. गौरतलब है कि इस योजना के तहत प्रत्येुक बैंक शाखा द्वारा कम से कम एक अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के उधारकर्ता और एक महिला उधारकर्ता को नई परियोजना की स्थाअपना के लिए 10 लाख रुपए से 1 करोड़ रुपए के बीच बैंक लोन उपलब्धथ कराना है. ये उद्यम विनिर्माण, सेवा या व्या पार क्षेत्र से संबंधित हो सकते हैं. गैर-व्यसक्ति उद्यम के मामले में 51 प्रतिशत शेयरधारिता व नियंत्रक हिस्से दारी अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति या महिला उद्यमी के पास होनी चाहिए.

स्टैंड-अप इंडिया योजना के लिए पात्रता (Eligibility for Stand Up India Scheme)

  • स्टैंड अप इंडिया योजना का लाभ प्राप्ति करने हेतु कुछ नियम हैं जिसे पूरा करने के बाद ही आवेदक को लाभ मिलता है.

  • स्टैंड-अप इंडिया स्कीम का लाभ अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और महिला उद्यमी, जिनकी आयु 18 वर्ष से अधिक है वो लाभ उठा सकते है.

  • इस योजना के अंतर्गत सहायता केवल नई परियोजनाओं के लिए ही उपलब्धम है. इस संदर्भ में नई परियोजना का अर्थ है, लाभार्थी का विनिर्माण या सेवाक्षेत्र या व्या पार क्षेत्र में पहली बार उद्यम लगाना.

  • गैर-व्यरक्ति उद्यम के मामले में 51 प्रतिशत शेयरधारिता व नियंत्रक हिस्सेरदारी अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति या महिला उद्यमी के पास होनी चाहिए.

startup india loan scheme in hindi

स्टैंड-अप इंडिया स्कीम में कितना लोन मिल सकता है? (How much loan can be available in stand-up India scheme?)

आप 10 लाख रुपये से 1 करोड़ रुपये तक के लोन ले सकते हैं.  आप टर्म लोन या कार्यशील पूँजी (working capital) लोन, दोनों तरह का लोन के सकते हैं. अगर आपने दोनों लिए हैं, तब भी आपका कुल लोन 1 करोड़ रुपये से ज्यादा नहीं हो सकता. गौरतलब है कि इस योजना के तहत आपको केवल प्रोजेक्ट की कुल लागत की 75% राशि तक का लोन ही मिल सकता है. यानी आपको अभी भी 25% राशि अपने पास देनी होगी होगी.

स्टैंड-अप इंडिया योजना के तहत ब्या्ज दर (Interest Rate under Stand Up India Scheme )

स्टैंड अप इंडिया योजना के अंतर्गत ब्याज दर संबंधित निर्धारित श्रेणी के लिए बैंक द्वारा प्रायोजित न्यू‍नतम ब्याज दर होगा, जो आधार दर + 3%+ आशय प्रीमियम से अधिक नहीं होगा.

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना के लिए दस्तावेज (Documents for Stand-up India Loan Scheme)

आधार कार्ड
निवास का प्रमाण
व्यवसाय पते का सबूत
पैन कार्ड
अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए जाति प्रमाण पत्र
पासपोर्ट आकार के फोटो
बैंक खाता विवरण
आस्तियों और देयताओं के प्रवर्तकों / जमानतदार के बयान
नवीनतम आयकर रिटर्न
रेंट एग्रीमेंट (यदि किराए पर व्यावसायिक परिसर)
यदि जरुरत है तो प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से क्लीयरेंस प्रमाण पत्र

documents required for stand up india loan

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online application for Stand-up India loan scheme)

आवेदनकर्ता को स्टैंड अप इंडिया के तहत लोन लेने के लिए https://www.standupmitra.in/ वेबसाइट पर जाना होगा.
वेबसाइट पर जाने के बाद आपको लॉगइन [login] पेज आएगा.
उस [login]पर क्लिक करें.
यूजर नेम[user name,password] और पासवर्ड भरें.
एक बार लॉग इन करने के बाद आवेदन फार्म भरने पर आवेदन सीधे लोन विभाग और आपके चुने हुए बैंक को भेज दिया जाएगा.

स्टैंड-अप इंडिया ऋण योजना ऑफलाइन आवेदन (Stand-up India Loan Scheme Offline Application)

स्टैंड अप इंडिया ऋण योजना के लिए आवेदन तीन तरीकों से किया जा सकता है.
वेब पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन
सीधे बैंक शाखा में
अपनी अग्रणी जिला प्रबंधक के माध्यम



Share your comments