Government Scheme

PM Jan Dhan खाता को आधार कार्ड से लिंक कराने पर मिलेगा 5 हजार रुपए, जानिए कैसे?

jan dhan

देश की गरीब से गरीब जनता को बैंक खाते से जोड़ने के लिए प्रधानमंत्री जन धन योजना (Pradhan Mantri Jan Dhan Khata Yojana) चलाई जा रही है. यह मोदी सरकार की सबसे सफल योजनाओं में से एक है. इसके तहत गरीब जनता शून्य बैलेंस पर बैंक में खाता खुलवा सकती हैं. इसके साथ खाताधारक का बीमा भी किया जाता है. इतना ही नहीं, बैंक खाते में सरकार योजनाओं का पैसा भी भेज सकती है. इस योजना को पीएम मोदी ने 28 अगस्त 2014 को लॉन्च किया था. इस योजना की खास बात यह है कि खाताधारक को खाते में पैसा न होने की स्थिति में भी 5000 रुपए तक की निकासी की सुविधा दी जाती है. इससे गरीब परिवार कोई भी आपात स्थिति में अपनी जरूरत को पूरा कर सकते हैं.

ऐसे उठाएं 5000 रुपए का लाभ

इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए आपका पीएम जन धन खाता (PM Jan Dhan A/c) आधार से लिंक होना चाहिए. इसके लिए आपको कुछ ज्यादा नहीं करना है, बस अपने बैंक जाकर आधार से खाते लिंक करने वाले फॉर्म को भरकर जमा करना है.

Rupee

क्या होता है ओवरड्राफ्ट

इसका मतलब यह है कि आपके खाते में मौजूद राशि से अधिक रुपए निकालना. यह सुविधा चुनिंदा ग्राहकों को दी जाती है. आमतौर पर यह सुविधा करेंट अकाउंट में मिलती है. अगर आपके बैंक खाते में 5000 रुपए हैं और आपको अचानक 10 हजार रुपए की आवश्यकता है, तो आप जन धन खाते से 10 हजार रुपए निकाल सकते हैं. इसके लिए बैंकों ने कुछ नियम बनाए हैं.

ओवरड्राफ्ट का लाभ उठाने के नियम

  • इस सुविधा के लिए बैंकों को अपने ग्राहक पर भरोसा होना चाहिए.

  • अगर आप एक निश्चित समय तक जन धन खाते में न्यूनतम बैंलेंस रखते हैं, साथ ही ते के साथ जारी Rupay Debit Card कार्ड का नियमित इस्तेमाल करते हैं, तो आपको ओवरड्राफ्ट की सुविधा मिल सकती है.

  • अगर आप नियमित रूप से अपने खाते का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपको इसका लाभ मिल सकता है.

जानकारी के लिए बता दें कि खाताधारक को Rupay Debit card पर 1 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा भी दिया जाता है. इसके अलावा 30 हजार रुपए का एक और बीमा मिलता है. अगर आपके साथ कोई अनहोनी होती है, तो खाताधारक द्वारा नामित व्यक्ति कुल 1.30 लाख रुपए का दावा कर सकता है.



English Summary: PM Jan Dhan A / c link to Aadhaar and avail up to 5 thousand rupees

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in