1. सरकारी योजनाएं

मुद्रा शिशु योजना के तहत मिल रहा बिना गारंटी 50 हजार रुपए का लोन, जल्द उठाएं इस मौके का फायदा

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
mudra

कोराना संकट में आर्थिक तंगी से निपटने के लिए मोदी सरकार द्वारा तमाम योजनाएं चलाई गई हैं. इस संकट की टगड़ू में सरकार ने आम लोगों को राहत पहुंचाने का पूरा प्रयास किया है. इस कड़ी एक बार फिर मोदी सरकार ने आम लोगों को बड़ी रहात दी है.

बिना गारंटी पर लोन

दरअसल, मोदी सरकार द्वारा 50 हजार रुपए का लोन उपलब्ध कराया जा रहा है. खास बात है कि यह लोन बिना गारंटी पर उपलब्ध हो रहा है. बता दें कि अब तक इस योजना का लाभ करीब 10 करोड़ लोग उठा चुके हैं. इस योजना का नाम मुद्रा शिशु योजना (Shishu Mudra Yojana) हैं. इसके तहत लोन पर ब्याज दरों में 2 प्रतिशत तक की छूट दी जा रही है. बता दें कि इस योजना के तहत लोन लेने पर 9 से 12 प्रतिशत तक का ब्याज लगता है. इसमें सरकार की तरफ से 2 प्रतिशत तक की छूट दी जा रही है. मतलब यह है कि आपको लेन पर 7 प्रतिशत की दर से ब्याज देना होगा. खास बात है कि बैंक से बिना गारंटी लोन लेने के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज नहीं लगता है. जो लोग लोन लेना चाहते हैं, उन्हें एक मुद्रा कार्ड दिया जाता है, जिसको जरूरत पड़ने पर खर्च कर सकते हैं.

लोन देने का उद्देश्य

इस योजना को शुरू करना का उद्देश्य है कि इस संकट की घड़ी में लोग अपना बिजनेस कर पाएं. अगर आप भी खुद का बिजनेस शुरु करना चाहते हैं, तो आपको बैंक से लोन ले सकते हैं. इसमें किसी तरह की दिक्कत भी नहीं होगी. इसके तहत आप दुकान खोलने, रेहडी पटरी लमेत अन्य छोटा बिजनेस शुरू करने के लिए लोन ले सकते हैं. बता दें, कि यह लोन वाणिज्यिक बैंकों से लेकर स्मॉल फाइनेंस बैंक, एमएफआई और एनबीएफसी द्वारा दिया जा रहा है.

पात्रता

इस योजना के तहत कोई भी शख्स लोन ले सकता है. इसके लिए वाणिज्यिक बैंक, स्मॉल फाइनेंस बैंक, एमएफआई और एनबीएफसी संस्थानों में जाकर जानकारी प्राप्त कर सकता हैं, साथ ही लोन के  लिए आवेदन भी कर सकते हैं. इतना ही नहीं, आप इस लोन के लिए सरकार के https://www.udyamimitra.in/ पोर्टल पर जाकार ऑनलाइन  आवेदन भी कर सकते हैं.

English Summary: Modi government is giving a loan of 50 thousand rupees without guarantee under Mudra Shishu Yojana

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News