Government Scheme

PM Kisan Yojana: इन 2 तरीकों से चेक करें पीएम किसान खाते का बैलेंस, जानिए पूरी प्रक्रिया

Government scheme

देश के किसानों के हित में तमाम योजनाएं लागू की गई हैं, जिनके जरिए खेती करना काफी आसान हो गया है. इसमें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhan Mantri Samman Nidhi Yojana) भी शामिल है. इस योजना को बहुत महत्वाकांक्षी माना जाता है,. क्योंकि इसके तहत किसानों के खातों में सालाना 6 हजार रुपए की आर्थिक मदद भेजी जाती है. यह राशि 2-2 हजार रुपए की 3 किस्त भेजी जाती है. इस योजना का लक्ष्य है कि किसानों को आर्थिक तौर पर सशक्त बनाया जाए. बीते साल केंद्र सरकार ने इस योजना की शुरुआत की है. इस योजना का लाभ उठाने में यूपी के किसान अव्वल आएं हैं.

आपको बता दें कि पीएम किसान योजना के तहत किसानों के खाते में 5 किस्तें भेजी जा चुकी हैं. अब अगस्त के पहले सप्ताह से छठी किस्त भेजी जाएगी. इतना ही नहीं, इस योजना से जुड़े सभी लाभार्थी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड भी मुहैया कराया जाएगा. ऐसे में आप तरीकों दो तरीकों से अपने खाते की राशि चेक कर सकते हैं.

Modi government

अधिकतर किसानों के मन में सवाल आता होगा कि आखिर पीएम किसान योजना के तहत आने वाली राशि को खाते में कैसे चेक किया जाए. इसके क्या-क्या तरीके हैं. ऐसे में किसान भाईयों को बता दें कि पीएम किसान खाते की राशि जानने का बहुत आसान तरीका एसएमस है. खाते में राशि ट्रांसफर हुई या नहीं, इसकी जानकारी एसएमएस के जरिए मिल जाती है. यह एसएमएस किसान के खाते से रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाता है. एसएमएस के जरिए जानकारी मिल जाती है कि लाभार्थी को कितनी राशि भेजी गई है.

ध्यान दें कि एसएमएस की सुविधा का लाभ तभी उठा सकते हैं, जब आपके खाते से सही मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होगा. इसलिए किसान खेता में वही मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड कराएं, जो वह उपयोग कर रहे हों. अगर किसी किसान के खाते से मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड नहीं है, तो वह बैंक पासबुक अपडेट या एटीएम से मिनी स्टेटमेंट निकालकर खाते की जानकारी ले सकते हैं.

ये खबर भी पढ़ें: बड़ी खुशखबरी: बाग लगाने पर फ्री पौधे और खाद के साथ 3 साल तक मिलेगी मजदूरी, किसान 10 जुलाई तक करें आवेदन



English Summary: How to check the balance of PM Kisan account

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in