Kisan credit card: ऐसे मिलेगा पशुपालन और मछलीपालन के लिए 2 लाख रुपये का लोन

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

कृषि क्षेत्र और किसानों की उन्नति के लिए केंद्र और राज्य सरकारें लगातार अहम कदम उठा रही हैं. इनमें किसानों के लिए चलाई गई सरकारी योजनाएं  (Government schemes) शामिल हैं. इन सरकारी योजनाओं द्वारा किसानों को  सहायता मिलती है. इनमें पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) और किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan credit card) को अहम माना जाता है. ये सरकारी योजनाएं किसानों को आर्थिक मदद पहुंचाती हैं. क्रेडिट कार्ड की बात करें, तो इससे खेती  किसानों के लिए खेती आसान हो गई है. इसके तहत किसान फसल संबंधी खर्चों के लिए लोन ले सकता है. इसके अलावा किसान क्रेडिट कार्ड पशुपालन और मछलीपालन के लिए लोन मुहैया कराता है. खास बात है कि इस लोन पर ब्याज दर भी कम रहती है. किसानों के लिए खुशी की बात यह है कि अब वह पशुपालन और मछलीपालन के लिए 2 लाख रुपए तक का लोन आसानी से प्राप्त कर सकते हैं.

कौन होगा पात्र

बता दें किसान क्रेडिट कार्ड के तहत पशुपालन और मछलीपालन के लिए लोन दिया जाता है. लोन लेने के लिए किसान को 3 तरह के दस्तावेज़ की आवश्यकता पड़ेगी.

  1. खेती से जुड़ा दस्तावेज़

  2. निवास प्रमाण पत्र

  3. शपथ पत्र

जानकारी के लिए बता दें कि पहले दस्तावेज़ के द्वारा बैंक आपके किसान होने और न होने की पुष्टि करेगा. दुसरे दस्तावेज़ से निवासी होने की पुष्टि जायेगी इसके अलावा तीसरे दस्तावेज़ से पुष्टि की जाएगी कि आप पर किसी और बैंक का लोन पेडिंग तो नहीं है. ध्यान दें कि इसके लिए आवेदक शपथ पत्र दिखा सकता है.

बिना गारंटी मिलेगा लोन

खास बात है कि किसान क्रेडिट कार्ड के तहत लाभार्थियों को बिना गारंटी के 1 लाख 60 हजार रुपये तक का लोन मुहैया कराया जा रहा है. इतना ही नहीं, इस योजना के तहत 3 लाख रुपये तक का लोन सिर्फ 3 प्रतिशत पर अपलब्ध होगा. इसके अलावा किसान क्रेडिट कार्ड धारकों को 3 लाख रुपये का लोन 4 प्रतिशत के ब्याज पर मिल सकता है. हालांकि, इस लोन को समय पर चुकाने के लिए कुछ खास शर्तें रखी जाएंगी.

ये खबर भी पढ़ें: Black Gram Farming: उर्द की इन उन्नत किस्मों से मिलेगी अधिक पैदावार

English Summary: how to take a loan of 2 lakh rupees from kisan credit card

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News