बजट 2020-21: किसानों के लिए बनाई गई 1,45,777 करोड़ की ऋण योजना

सुधा पाल
सुधा पाल
kj

बजट पेश होने में अब ज़्यादा वक्त नहीं है. शनिवार को बजट 2020-21  आने वाला है और किसान भी इसी इंतज़ार में हैं कि इस बार उनके लिए क्या नया और ख़ास होगा. हाल ही में हरियाणा के किसानों के लिए एक ख़ास खबर सामने आयी है. रिपोर्ट्स के मुताबिक हरियाणा के लिए लगभग 1,46,733 करोड़ रुपए ऋण की योजना बनायी गयी है.

आपको बता दें कि रिपोर्ट्स के मुताबिक नाबार्ड (NABARD) की तरफ से साल 2020-21 (budget 2020-21) का स्टेट फ़ोकस पेपर (State Focus Paper-NABARD) जारी किया जा चुका है. इस स्टेट फ़ोकस पेपर के मुताबिक किसानों के लिए उच्च तकनीक वाली कृषि पद्धतियों (agriculture techniques) पर ख़ास तौर से ध्यान दिया गया है. इसके साथ ही साल 2020-21 के लिए बैंक की तरफ से ऋण योजना (loan scheme) तैयार की गयी है.

ये है राशि...

इस ऋण योजना के तहत किसानों के लिए फसल ऋण 55642 करोड़ रुपए रखा गया है. इसके साथ ही कृषि सावधि ऋण के लिए 29035 करोड़ रुपए और एमएसएमई (MSME) के लिए 42492 करोड़ रुपए की योजना है. साथ ही बाकी के प्राथमिक क्षेत्रों के लिए 18408 करोड़ रुपए की राशि रखी गयी है. 

राज्य में बैंकों की भूमिका

आपको बता दें कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने इस योजना के सम्बन्ध में राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी की बैठक की. इसके साथ ही सभी बैंकर्स को प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana), किसान समूहों के ऋण, स्टाम्प डयूटी कम करना, डीआरआई अग्रिम और फसल अवशेषों से बॉयागैस प्लांट (biogas plant unit) लगाना और शिक्षा ऋण (education loan) की योजनाएं, जैसे मुद्दों पर ज़ोर देने की बात कही गई है. हरियाणा में कुल 5684 बैंक शाखाएं और 5911 बैंक मित्र हैं. इसके साथ ही 6055 एटीएम (ATM) संचालित किए गए हैं.

English Summary: haryana government prepared loan scheme for farmers as per the state focus paper

Like this article?

Hey! I am सुधा पाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News