MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

पेड़ों से होगी जबरदस्त कमाई, वन विभाग की स्कीम से किसान हो सकते हैं मालामाल, ऐसे उठाएं लाभ

वन विभाग ने एक जबरदस्त स्कीम निकाली है. इसके माध्यम से किसान अच्छी कमाई कर सकते हैं.

मुकुल कुमार
मुकुल कुमार
पेड़ों से होगी जबरदस्त कमाई
पेड़ों से होगी जबरदस्त कमाई

अब खेती केवल फसलों के उत्पादन तक ही सीमित नहीं रह गई है. किसान अन्य तरह के कामकाजों से भी अच्छी कमाई करने में कामयाब हैं. वृक्षारोपण भी कृषि क्षेत्र का ही एक हिस्सा है. यह पर्यावरण और फसल दोनों के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है. इस समय किसान पेड़ों से जबरदस्त कमाई कर सकते हैं. दरअसल, वन विभाग एक स्कीम के तहत महज 10 रुपये में लोगों को पौधा दे रहा है. आइए जानें कहां व कैसे मिलेगा इसका लाभ.

यहां उठा सकते हैं योजना का फायदा

बिहार में पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग ने 'जल जीवन हरियाली योजना' नाम से एक योजना की शुरुआत की है. जिसके तहत किसानों को महज 10 रुपये की सुरक्षित जमा राशि पर तमाम पौधे दिए जा रहे हैं. केवल 10 रुपये के फिक्सड डिपॉजिट पर बिहार में किसान वन विभाग की तरफ से फलदार व इमारती दोनों किस्म के पौधे ले सकते हैं. खास बात यह है कि अगर तीन साल तक पौधे जीवित रहे तो विभाग 70 रुपये की सब्सिडी भी देगी. वहीं, पेड़ का पूरा मालिक किसान ही होंगे.

यह भी पढ़ें- नई पोस्ट ऑफिस योजना ग्राहकों को दे रही बैंक से बेहतर रिटर्न

शुरू है आवेदन की प्रक्रिया

इस योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू है. किसान वन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं. इसके अलावा, बिहार के लगभग सभी जिलों में पौधे के वितरण को लेकर अस्थाई सेल काउंटर बनाए गए हैं. कहा जा रहा है बाद में कुछ जगहों पर मोबाइल वैन सेल काउंटर भी लगाए जाएंगे. ऐसे में किसान फलदार पौधा लगाकर कुछ समय बाद अच्छी कमाई कर सकेंगे.

विभाग की तरफ से बताया गया है कि अब तक लाखों की संख्या में पौधों का वितरण हो चुका है. बता दें कि वन प्रमंडल कार्यालय ने वृक्षारोपण की तादाद बढ़ाने के लिए छात्रों, स्कूलों और अन्य सरकारी संस्थानों को फ्री में पौधा देने का निर्णय लिया है.

English Summary: Forest Department scheme on trees earn well in small time Published on: 21 June 2023, 01:59 IST

Like this article?

Hey! I am मुकुल कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News