BUDGET 2020: कुसुम योजना के तहत 21 लाख किसानों को मिलेगा सोलर पंप, और भी कई फ़ायदे

सुधा पाल
सुधा पाल

बजट 2020 पेश हो चुका है और किसानों के लिए केंद्रीय सरकार काफी अच्छी योजनाएं लेकर आई है. किसानों के लिए कुसुम योजना (KUSUM Yojana) को जारी किए जाने की बात भी कही गई है. इसी के तहत बेहतर खेती के लिए संसाधन रुकावट न बने, किसानों के लिए सोलर पंप उपलब्ध कराए जाएंगे जिससे सिंचाई की उत्तम व्यवस्था हो सके.

हाल ही में आए बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) ने कुसुम योजना (KUSUM scheme)  के तहत 21 लाख किसानों को सोलर पंप उपलब्ध कराने की योजना बनाई है. वित्त मंत्री (Finance Minister) की इस घोषणा के बाद सोलर पम्प (solar pump) के ज़रिए किसानों को खेती में आ रही सिंचाई की तमाम दिक्कतों से छुटकारा मिल सकेगा.

सरकार की तरफ से मिलेगी सब्सिडी (subsidy on solar pump)

आपको बता दें कि इस किसान उर्जा सुरक्षा और उत्थान महाअभियान यानी KUSUM Yojana की घोषणा केंद्र सरकार के आम बजट 2018-19 (budget 2018-19) में की गई थी. कुसुम योजना को उन किसानों को ध्यान में भी रखकर लाई गई थी जो अपने क्षत्र में बिजली संकट से जूझ रहे थे. वहीं आपको बता दें कि सोलर पंप लगवाने के लिए सरकार किसानों को सब्सिडी (subsidy) के रूप में कुल लागत की 60% राशि देगी.

कुसुम योजना से जुड़े किसानों को फ़ायदा

कुसुम योजना से जुड़े किसानों को कई फ़ायदे हैं. इसमें किसानों को सिंचाई के लिए मुफ़्त बिजली उपलब्ध कराई जाएगी. इसके साथ ही अतिरिक्त बिजली बनाकर ग्रिड भेजने पर किसान पैसे भी कमा सकते हैं. इसके साथ ही किसान सौर ऊर्जा उत्पादन (solar energy production) कर अच्छी कमाई भी कर सकते हैं. कुसुम योजना के ज़रिए किसान अपने खेत में सोलर पैनल लगाकर इससे बनने वाली बिजली का इस्तेमाल बखूबी खेती के लिए कर सकते हैं. खास बात यह है कि अगर किसान सौर ऊर्जा उपकरण स्थापित करते हैं तो उन्हें केवल 10% राशि का ही भुगतान करना पड़ेगा.

ये भी पढ़ें:परंपरागत कृषि विकास योजना: जैविक खेती करेंगे किसान, तो पाएंगे 75% सब्सिडी

English Summary: budget 2020 under kusum yojna 21 lakh farmers will get solar pump subsidy is also there

Like this article?

Hey! I am सुधा पाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News