MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

मुर्गी और बकरी पालन ऋण के लिए ऐसे करें आवेदन, जानें कितना मिलता है लाभ

भारत के किसानों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड की योजना सबसे उत्तम है. दरअसल, इस सरकारी स्कीम में गरीब किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जोर दिया जाता है.

लोकेश निरवाल
लोकेश निरवाल
मुर्गी और बकरी पालन ऋण की आवेदन प्रक्रिया
मुर्गी और बकरी पालन ऋण की आवेदन प्रक्रिया

देश के किसान भाइय़ों की आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए और साथ ही उनकी आय में बढ़ोतरी करने के लिए भारत सरकार ने कई तरह की विभिन्न योजनाएं शुरू की हैं. इन्हीं योजनाओं में से एक पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना (Pashu Kisan Credit Card Scheme) भी है, जिसमें कई सुविधाओं का लाभ मिलता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस पहल का उद्देश्य पशुधन पालन में लगे ग्रामीण किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है. इस योजना के माध्यम से किसानों को ऋण प्राप्त करने का अवसर मिलता है, जिससे वे गाय, भैंस, मुर्गी और बकरी जैसे जानवरों को खरीदने में सक्षम होते हैं. आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि कैसे आप किसान क्रेडिट कार्ड में लोन के लिए सफलतापूर्वक आवेदन कर सकते हैं.

लोन लेने के लिए कौन से दस्तावेज आवश्यक हैं?

सरकार ने पशुपालन किसानों को अत्यधिक अनुकूल ब्याज दर पर ऋण प्रदान करके सहायता पहुंचाने के लिए किसान क्रेडिट कार्ड योजना की शुरुआत की. योजना का लाभ उठाने के इच्छुक किसानों के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से आवेदन के तरीके उपलब्ध हैं. ऑफ़लाइन आवेदन के लिए, किसान अपने निकटतम बैंक से आवश्यक फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं, उसे विधिवत भर सकते हैं और फिर आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा कर सकते हैं.

इन दस्तावेजों में एक पशु स्वास्थ्य प्रमाणपत्र, बीमित पशुओं पर किसी भी मौजूदा ऋण का विवरण, जानवरों को खरीदने के लिए ऋण की आवश्यकताएं, बैंक क्रेडिट स्कोर, आवेदक का आधार कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, मोबाइल नंबर और एक पासपोर्ट आकार शामिल है.

कितना मिलेगा ब्याज

इस योजना का एक प्रमुख लाभ ऋण पर केवल 4% की अविश्वसनीय रूप से कम ब्याज दर है. इसके विपरीत, निजी बैंकों से पशुपालन के लिए ऋण पर 7% तक की उच्च ब्याज दर लग सकती है.

किसान क्रेडिट कार्ड पर मिलने वाली राशि विभिन्न जानवरों पर अलग-अलग होती है. उदाहरण के लिए, गायों के लिए 40,000 तक का ऋण प्राप्त किया जा सकता है, जबकि वहीं कुछ पशुओं पर 60,000 तक का ऋण दिया जाता है. इसके अतिरिक्त, किसान इस योजना में भेड़ और बकरियों के लिए 4,000 से अधिक का ऋण सुरक्षित कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: नर और मादा टर्की मुर्गियों की पहचान करने के सरल तरीके, जानें क्या है इनका भोजन आहार

इस सरकारी पहल का उद्देश्य किसानों पर वित्तीय बोझ को कम करना और पशुपालन को आजीविका के एक व्यवहार्य और टिकाऊ साधन के रूप में बढ़ावा देना है. आकर्षक ब्याज दरों और अनुरूप ऋण राशि की पेशकश करके, यह योजना किसानों को अपने पशुपालन उद्योग में निवेश करने और अंततः उनकी कृषि उत्पादकता और आय बढ़ाने के लिए सशक्त बनाना चाहती है.

English Summary: Apply for poultry and goat farming loan like this, know how much benefit is available Published on: 30 July 2023, 12:23 IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News