MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

पॉलीहाउस बनाने पर मिलेगी 85 प्रतिशत सब्सिडी, जानिए कैसे करें इस योजना के तहत आवेदन

कई बार कड़ी मेहनत के बावजूद किसानों को फसलों से उचित लाभ नहीं मिल पाता है. ऐसे में किसानों को मायूसी व निराशा (despair and despair) जैसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है. मगर किसानों को उनकी मेहनत का उचित लाभ मिले, इसलिए हिमाचल प्रदेश द्वारा किसानों के लिए एक योजना कार्यान्वित की जा रही है, जो किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है.

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Chief Minister Nutan Polyhouse Yojna
Chief Minister Nutan Polyhouse Yojna

कई बार कड़ी मेहनत के बावजूद किसानों को फसलों से उचित लाभ नहीं मिल पाता है. ऐसे में किसानों को मायूसी व निराशा (despair and despair) जैसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है. मगर किसानों को उनकी मेहनत का उचित लाभ मिले, इसलिए हिमाचल प्रदेश द्वारा किसानों के लिए एक योजना कार्यान्वित की जा रही है, जो किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है.

दरअसल, प्रदेश सरकार की यह योजना किसानों व बागवानों (farmers and gardeners) के लिए काफी लाभकारी है. इसका नाम मुख्यमंत्री नूतन पॉलीहाउस योजना (Chief Minister Nutan Polyhouse Yojna) है. इस योजना के तहत प्रदेश सरकार किसानों को पॉलीहाउस स्थापित करने के लिए सब्सिडी प्रदान करती है. तो आइए किसान भाईयों को मुख्यमंत्री नूतन पॉलीहाउस योजना (Chief Minister Nutan Polyhouse Yojna) संबंधी अधिक जानकारी देते हैं.

क्या है मुख्यमंत्री नूतन पॉलीहाउस योजना? (What is Mukhyamantri Nutan Polyhouse Yojana?)

प्रदेश सरकार इस योजना के तहत किसानों को पॉलीहाउस स्थापित करने के लिए सब्सिडी देती है, ताकि किसान पॉलीहाउस स्थापित कर फल व सब्जियां पैदाकर अच्छी आय प्राप्त कर सकें. इसके साथ ही उन्हें अपने घर-द्वार पर ही स्वरोजगार भी उपलब्ध हो सके. बता दें कि इस योजना के तहत प्रदेश सरकार 85 प्रतिशत सब्सिडी प्रदान कर रही है. इसमें किसान को केवल 15  प्रतिशत राशि देनी होती है. इसके साथ ही ग्रीनहाउस के क्षेत्रफल के हिसाब से सब्सिडी दी जाती है.

कैसे मिलेगा योजना का लाभ? (How to get the benefit of the plan?)

इस योजना का लाभ उठाने के लिए कृषि विभाग को आवेदन करना होता है. इसके उपरान्त कृषि विभाग द्वारा 252 वर्ग मीटर क्षेत्र में पॉलीहाउस लगाने के लिए 3 लाख 17 हजार रुपए की राशि स्वीकृत की गई है.

ये खबर भी पढ़ें: Poly House Farming: पॉली हाउस में खेती करने की पूरी जानकारी

पॉलीहाउस में किन फसलों की खेती करें खेती? (What crops to cultivate in polyhouse?)

आप पॉलीहाउस में खुले खेतों की अपेक्षा बेमौसमी सब्जियों (off-season vegetables)  भी उगा सकते हैं. इसमें फल व सब्जियों का उत्पादन ज्यादातर होता है. इसमें तैयार की जाने वाली सब्जियां व फल ताजे होते हैं, इसलिए बाजार में फसलों का दाम काफी अच्छा मिल जाता है. आप पॉलीहाउस में  टमाटर, शिमला मिर्च, गाजर व बीनस आदि सब्जियां उगा सकते हैं.

पॉलीहाउस में खेती करने से लाभ (Benefits from farming in polyhouse)

आपको बता दें कि पॉलीहाउस में उगाई जाने वाले फल, सब्जियां व पौधों की देखभाल करना आसान होता है. इन्हें कम पानी, सीमित सौर किरणों, कम कीटनाशकों और न्यूनतम उर्वरक (Pesticides and minimal fertilizer)  के साथ नियंत्रित वातावरण में उगाया जा सकता है. इसके अतिरिक्त रोग व कीट भी लगते हैं, जिससे कीटनाशक का छिड़काव बार-बार करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है. किसान भाई सालभर पॉलीहाउस में फसलों को उगा सकते हैं.

English Summary: 85 percent subsidy under Mukhyamantri Nutan Polyhouse scheme Published on: 29 November 2021, 11:24 IST

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News