1. खेती-बाड़ी

उन्नत कृषि तकनीक सीखने के लिए इजरायल गई इस राज्य की महिला किसान

किशन
किशन

झारखंड की रघुवर दास सरकार ने महिला किसानों को सशक्त बनाने के लिए 24 महिलाओं को इजरायल भेजा है. ये महिलाएं सोमवार की सुबह इजरायल को रवाना हो गईं. इजरायल जाने से पहले राज्य के मुख्यमंत्री रघुवरदास ने रांची स्थित अपने सीएम आवास पर इन सभी महिला किसानों से मुलाकात भी की थी. मुलाकात के दौरान सीएम रघुवरदास ने कहा कि इजरायल में कृषि तकनीक को सीख कर वे अपने-अपने गांवों में मास्टर ट्रेनर का काम करेंगे. सीएम ने किसानी के बारें में महिला किसानों के अनुभवों को भी सुना.

पहले जाते थे पुरूष

अभी तक उन्नत कृषि की तकनीक जानने के लिए राज्य सरकार केवल पुरूषों को ही इजरायल भेजती थी लेकिन इस बार एक अनूठे प्रयोग के तहत रघुवर सरकार ने महिला किसानों को इजरायल भेजने का कार्यक्रम बनाया है. इसके तहत कुल 24 महिला किसानों को इजरायल भेजा गया है.

महिला किसानों का खास चयन

इन सश्कत महिला किसानों का चयन संथला परगाना के छह जिले और कोल्हान के चाईबासे से किया गया है. इन महिला किसानों के साथ चार महिला आईएएस अफसर और दो कृषि विभाग के अधिकारी भी इजरायल गए हैं.

इजरायल की खेती है दुनिया में मशहूर

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने महिला किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें काफी खुशी है कि जो महिलाओं ने आज तक रांची न देखा था वह प्लेन का सफर करके इजरायल जा रही हैं और वहां जाकर खेती से जुड़ी नई तकनीकों के बारे में सीखेंगी. मुख्यमंत्री ने इन्हें केंद्र और राज्य सरकार के कामकाज का प्रचार करने को कहा है. गौरतलब है कि इजरायल खेती में आधुनिक तकनीकों को अपनाने वाला ऐसा देश है जहां की कृषि दुनियाभर में मशहूर है. इजरायल अपनी विभिन्न तरह की कृषि तकनीकों और नई खोजों के लिए मशहूर है. वहां कम पानी में भी खेती होती है जो आश्चर्य की बात है. झारखंड से जाने वाली महिला किसान काफी खुश दिखाई दे रही हैं. इसी के साथ राज्य सरकार को इस बात की उम्मीद है कि इजरायल की यात्रा से खेती, पशुपालन, को-ऑपरेटिव फार्मिग के क्षेत्र में सूबे में काफी बड़े बदलाव आने की उम्मीद दिखाई पड़ रही है.

English Summary: Women of this state went to Israel to learn advanced farming techniques

Like this article?

Hey! I am किशन. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News