Farm Activities

गन्ने की उपज को 40 प्रतिशत तक घटा देते हैं खरपतवार, ऐसे करें रोकथाम

sugar cane

गन्ने की फसल में खरपतवार एक दुश्मन की भूमिका निभाते हैं. इससे फसल का लगभग 30 से 40 प्रतिशत हिस्सा कम हो सकता है. जब खेत में खरपतवार उगते हैं, तो वहां की भूमि से गन्ने की तुलना में अधिक नाइट्रोजन और फास्फोरस लेते हैं. इस तरह 1 एकड़ में गन्ने की लगभग 80 क्विंटल उपज घट जाती है. खरपतवार के पौधे ऐसे होते हैं, जो खेत में बिना बोए ही निकल आते हैं. यह फसल को बहुत पहुंचाते हैं. इनसे खेत में उपयोग होने वाले कृषि यंत्रों को भी काफी नुकसान पहुंचता है.

गन्ने की फसल को ऐसे होता है नुकसान

गन्ने की 2 पंक्तियों के बीच की दूरी अन्य फसलों की तुलना में अधिक होती है. इस कारण फसल में अधिक खरपतवार निकलते हैं. किसान खेत में जिन उर्वरक का इस्तेमाल करते हैं, यह उसका पूरा फयादा उठाते हैं. इसके साथ ही फसल के विकास के लिए सूर्य की रोशनी ज़रूरी होती है. इसका भी खरपतवार इस्तेमाल करते हैं. इस कारण खेत हरा-भरा दिखाई देता है, लेकिन खरपतवार चौड़ी पत्ती,  पतली और संकरी पत्तियों पर प्रकोप करता है. कुछ खरपतवार गन्ने के साथ बढ़ जाते हैं औऱ पूरी फसल को पूरी को चपेट में ले लेते गैं. गन्ने की फसल को खरपतवार कब कितना नुकसान पहुंचा देते हैं, इसका पता किसान को चल ही नहीं पाता है. अधिकतर किसान फसल में कीट और रोग लगने का नियंत्रण करते हैं, लेकिन खरपतवार नियंत्रण पर बहुत कम ध्यान देते हैं, जो कि फसल के लिए हानिकारक साबित होता है.

ये खबर भी पढ़े: अनुसूचित जाति के किसानों को इस यंत्र पर मिल रही 50 प्रतिशत की सब्सिडी, 31 जुलाई तक करें ऑनलाइन आवेदन

gannna

गन्ने की फसल में खरपतवार नियंत्रण

  • किसानों को अपने खेत में फसलों की बुवाई बदलकर करनी चाहिए.

  • गन्ने की बाद गेहूं, गेहूं के बार ढैंचा, इसके बाद धान और फिर गन्ने की बुवाई करनी चाहिए.

  • फसल चक्र अपनाना चाहिए, इससे खरपतवार पर काबू पाया जा सकता है.

  • गर्मी के मौसम में गन्ने की 2 पंक्तियों के बीच देसी हल, फावड़ा, कल्टीवेटर या फिर रोटावेटर से गुड़ाई करनी चाहिए.

  • जब पौधा छोटा हो, तब गन्ने की 2 पंक्तियों के बीच आलू, लहसुन, प्याज, भिंडी, टमाटर, गोभी, मटर आदि की सह फसली खेती करनी चाहिए.

  • इसके अलावा उर्द, मूंग, लोबिया और भिंडी की खेती भी कर सकते हैं.

  • गन्ने की 2 पंक्तियों के बीच गन्ने की सूखी पत्ती बिछा दें. इससे खरपतवार नहीं निकलते हैं.

  • किसान विशेष स्थिति में किसी खरपतवार नाशक रसायन का छिड़काव भी कर सकते हैं.

ये खबर भी पढ़े: टमाटर और तरबूज की खेती से यह किसान कमा रहा लाखों रुपए, जानिए क्या है पूरी तकनीक



English Summary: Weed control method for sugarcane crop

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in