Farm Activities

किसान कपास के बीज की ऐसे कर सकते हैं जांच

Cotton seeds

भारत के कई हिस्सों में बी टी कपास की खेती की जाती है और यही वजह है कि हमारा देश इस फसल का सबसे बड़ा उत्पादक है. बी टी कपास रासायनिक कीटनाशकों के इस्तेमाल को भी काफी हद तक कम कर देता है. आपको बता दें कि रिपोर्ट्स के मुताबिक इसके बीज का कारोबार देश में लगभग पांच हजार करोड़ रुपए का है. देश में संकर और देसी बीजों की कीमत की तुलना में बी टी कपास के बीज की कीमत ज़्यादा है. ऐसे में किसान अगर इन बीजों पर अच्छी कीमत लगा रहा है, तो उसे इस बात का ख़ास ध्यान देना होगा कि उसके द्वारा लिए गए बीज शुद्ध हों. बीजों में कोई मिलावट न हो और उनकी गुणवत्ता भी बनी रहे. ऐसा होने के बाद ही उसे शानदार उत्पादन मिलेगा. ऐसे में आज हम आपको इसी बात की जानकारी देने जा रहे हैं कि किसान किस तरह बी टी कपास के बीज की जांच अपने आप ही कर सकते हैं. आइए जानते हैं कुछ जांच किट (test kits for bt cotton) के बारे में...

Cotton seeds

ये हैं बी टी कपास बीज जाँच किट

क्वांट एलिसा किट (Bt Quant ELISA kit)

यह किट उपयोग करने में बहुत ही आसान और कीमत के मामले में सस्ती है. किट ट्रांसजेनिक पौधों में क्राई 1 ए बी या क्राई 1 ए सी का माप लेती है. साथ ही इसके ज़रिए बीज की जांच में किसान को लगभग चार से पांच घंटे का समय लग सकता है. आपको बता दें कि एक एलिसा प्लेट को लगभग 96 सैंपल की जाँच के लिए उपयोग किया जा सकता है.

डाटब्लाट जांच किट (dot-blot assay)

इसे धब्बा बिंदु जांच किट के नाम से भी जाना जाता है. इस किट के ज़रिए एक बार में ही लगभग 100 सैंपल की जांच की जा सकती है. बी टी कपास के बीज या पौधे की जांच के लिए इसका उपयोग काफी आसान है. किसान लगभग 3 घंटे के अंदर बीज की जांच कर सकते हैं.

डिपस्टिक किट (INSTANT DIPSTICK TESTKIT)

इस किट के ज़रिए किसान या कोई भी व्यक्ति बड़ी ही आसानी से कपास के पौधे या बीज में बीटी विष का पता लगा सकता है. इसके लिए किसान को समय देने की भी ज़रूरत नहीं है क्योंकि लगभग 10 मिनट में ही जांच पूरी हो जाती है. इससे किसान अपने बीजों की जांच कर उनकी शुद्धता की परख कर सकता है. इसके इस्तेमाल करने का तरीका भी बहुत ही आसान है. किसान कपास के बीज या पौधे की पत्ती को बफर में अच्छी तरह से मसल लें. इसके बाद किट की छड़ी को बफर में डुबाकर दस मिनट के लिए छोड़ दें. अब अगर आपको दो लकीर दिखाई दें तो समझ जाइए कि कपास बी टी है. वहीं अगर एक लकीर दिखे तो कपास बी टी नहीं है.

डीएनए-पीसीआर किट

बी टी कपास की जांच की यह किट पॉलिमिरेज़ चेन रिएक्शन (पी सी आर) आधारित किट है. Polymerase chain reaction (PCR) आधारित इस किट से किसान लगभग तीन घंटे में टेस्टिंग पूरी कर सकते हैं. इसके साथ ही किसान लगभग 50 सैंपल की जांच एक बार में ही पूरी कर सकते हैं.

क्या है बी टी कपास (Bt Cotton)

बी टी कपास की बात करें तो यह आनुवंशिक रूप से संशोधित फसल है. यह बी टी कपास बेसिलस थूरेनजेनेसिस (Bacillus thuringiensis) नाम के बैक्टीरिया के जीन से अनुवांशिक रूप से संशोधित है. ख़ास बात यह है कि बीटी जीन का प्रोटीन कपास के कीटों के लिए विषाक्त (toxicated) होता है.



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in