MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. खेती-बाड़ी

Sandalwood Farming: चंदन की खेती से कमा सकते हैं करोड़ों का मुनाफा

आज के दौर में चंदन की खेती (Sandalwood Cultivation) हमारे किसान भाइयों के लिए मुनाफे का सौदा हो सकता है और यह उन्हें मालामाल कर सकती है. जिससे वह कम समय में ज्यादा से ज्यादा कमाई कर सकते हैं.

डॉ. अलका जैन
Sandalwood
Earn profit from sandalwood cultivation

चंदन का नाम लेते ही मन महक उठता है. भारतीय धर्म और संस्कृति में चंदन की लकड़ी को अत्यंत पवित्र माना जाता है. दैनिक जीवन में भी यह अत्यंत उपयोगी लकड़ी है. चंदन की लकड़ी के व्यवसायिक प्रयोग प्राचीन काल से ही होते रहे हैं. इसका प्रयोग आयुर्वेद ही नहीं बल्कि आधुनिक सौंदर्य प्रसाधन बनाने में भी किया जाता है.

चंदन के पेड़ की खासियत यह है कि इसकी खेती सहूलियत के अनुसार की जा सकती है. चाहे तो सारे क्षेत्र में चंदन के पेड़ लगाए जा सकते हैं और चाहे तो खेत के चारों ओर. यानी परंपरागत खेती भी सुरक्षित रहेगी और व्यापारिक दृष्टि से लाभ की संभावनाएं भी बनी रहेगी.

चंदन के एक पेड़ से होगी कितनी आमदनी

विशेषज्ञों का कहना है कि चंदन की एक पेड़ से 4 से 5 लाख आराम से कमाए जा सकते हैं. इसी से आपको चंदन की लकड़ी की गुणवत्ता और महत्व का अंदाजा हो गया होगा.

चंदन की खरीद और बिक्री पर है सरकार का नियंत्रण

यह ध्यान रहे कि चंदन की खरीद और बिक्री पर सरकार का पूर्ण नियंत्रण स्थापित है. 2017 में बने नियम के अनुसार चंदन की खेती तो कोई भी कर सकता है लेकिन इसका निर्यात करने का अधिकार सिर्फ सरकार को है.

यानी हमारे किसान भाइयों को एक निश्चित और मुनाफे वाला भाव तो चंदन का मिलेगा ही. आइए देखते हैं कि चंदन की खेती में किन-किन सावधानियों को रखने की जरूरत है-

अकेले ना लगाएं चंदन का पौधा

यह ध्यान रखने की जरूरत है कि चंदन के पौधे को कभी भी  अकेला ना लगाएं. इसके साथ एक पौधा जरूर लगाएं, इसे होस्ट पौधा कहा जाता है. यह पौधा इसके लिए सपोर्ट का काम करता है जिसे लगाना बहुत जरूरी है. यह चंदन के पौधे से चार पांच फीट की दूरी पर लगाया जा सकता है.

चंदन की खेती के लिए अधिक पानी की आवश्यकता नहीं 

चंदन की खेती करते समय यह भी ध्यान रखें कि इसे अधिक पानी की आवश्यकता नहीं है. जितना आवश्यक हो उतना ही पानी इन पौधों को उपलब्ध कराएं अन्यथा ये खराब हो सकते हैं.

चंदन के पौधे की उम्र हो लगभग 2 साल 

चंदन के पौधे को यूं तो किसी भी महीने में लगा सकते हैं. बस इसे लगाते समय यह ध्यान रखें कि उसकी उम्र कम से कम 2 साल हो.

साफ सफाई का रखें ध्यान

चंदन के पौधे को लगाने के बाद साफ - सफाई का विशेष ध्यान रखना जरूरी है. इसके आस - पास न तो पानी ठहरने देऔर न ही दलदल का जमाव होने दें. 

ये भी पढ़ें: Red rice: असम का लाल चावल विदेशों में मचा रहा है धूम, जानें क्या है ख़ासियत

क्या है चंदन के पौधे की कीमत

चंदन का पौधा बेहद सस्ता मिलता है. यह 100 रुपये से 130 रुपये में खरीदा जा सकता है और आप कल्पना कीजिए कि जब यह पेड़ के रूप में बदलता है तो 15 से 20 किलो लकड़ी इससे आराम से मिल जाती है .

चंदन की लकड़ी बहुत महंगी होती है. सबसे अच्छी बात यह है कि चंदन के पौधे को लगाने के 8 साल तक किसी भी तरह की बाहरी सुरक्षा की जरूरत नहीं होती लेकिन जब यह लकड़ी पकने लगती है तब इसकी महक फैलने लगती है और तब इसकी सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करना जरूरी है.

English Summary: Sandalwood Farming You can earn crores of profit from sandalwood cultivation Published on: 07 June 2022, 10:27 AM IST

Like this article?

Hey! I am डॉ. अलका जैन . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News