Farm Activities

सिर्फ 50 हजार रुपए की लागत से शुरू करें सहजन की खेती, मिलेगा बेहतर मुनाफ़ा !

देश की अर्थव्यवस्था कोविड-19 महामारी की वजह से काफी डगमगा गई है. इस संकट की घड़ी में कई लोगों की नौकरी छिन गई है, तो कई लोगों की नौकरी पर संकट के बादल छाए हुए हैं. अगर आप भी इस समस्या से जूझ रहे हैं, तो आप चिंता करना छोड़ दें, क्योंकि आज हम आपको एक ऐसा बिज़नेस आइडिया बताने जा रहे हैं, जिसको आप आसानी से शुरू करके अच्छी कमाई कर सकते हैं.  इसकी खेती को गांव और शहर, दोनों जगह के लोग आसानी से कर सकते हैं. आधुनिक समय में सहजन की खेती (Sahjan Farming) की तरफ अधिकतर लोग ध्यान दें रहे हैं, क्योंकि इसकी खेती के लिए ज्यादा भूमि की आवश्यकता नहीं होती है. अगर आप एक एकड़ में इसकी खेती करते हैं, तो लगभग 10 महीने बाद 1 लाख रुपए तक की कमाई कर सकते हैं.

सहजन की खेती संबंधी जानकारी

यह एक एक औषधी पौधा होता है, जो कि कम लागत में बड़ी आसानी से तैयार किया जा सकता है. इसको अंग्रेजी में ड्रमस्टिक (Drumstick) भी कहा जाता है. इसका वैज्ञानि‍क नाम मोरिंगा ओलीफेरा है. इसकी खेती में पानी की आवश्यकता बहुत कम होती है. इसके साथ ही पौधों का रख-रखाव भी कम करना पड़ता है. इसकी खासियत है कि इसकी एक बार बुवाई करने के बाद लगभग 4 साल तक बुवाई नहीं करनी पड़ती है. इसकी मार्केटिंग करना भी बेहद आसान होता है. दुनियाभर में इसकी मांग लगातार बढ़ती जा रही है. ऐसे में सहजन की खेती (Sahjan farming) से आप हर महीने अच्छा मुनाफ़ा कमा सकते हैं.

ये खबर भी पढ़ें: किसान ने 5 एकड़ किन्नू के बाग में की नींबू, चना, पपीता और गेंदा की खेती, हो रहा लाखों रुपए का मुनाफ़ा

इस तरह करें सहजन की खेती

इसकी खेती गर्म इलाकों में आसानी से की जा सकती है. यह फसल सर्द इलाकों में ज्यादा लाभ  नहीं दे पाती है, क्‍योंकि इसका फूल खि‍लने के लि‍ए लगभग 25 से 30 डिग्री तापमान की आवश्यकता पड़ती है. इसके लिए सूखी बलुई और चिकनी बलुई मिट्टी उपयुक्त मानी जाती है. बता दें कि यह पहले 1 साल के बाद साल में 2 बार उत्‍पादन देने लगता है. इसका एक पेड़ लगभग 10 साल तक अच्‍छा उत्‍पादन दे सकता है. इसकी खेती के लिए कोयम्बटूर 2, रोहित 1, पी.के.एम 1 और पी.के.एम 2 कि‍स्‍में प्रमुख मानी जाती हैं.

सहजन का उपयोग

इसका अधिकतर हि‍स्‍सा खाने लायक होता है. इसकी पत्‍तियों को सलाद के तौर पर खाया जाता है, तो वहीं पत्‍ते, फूल और फल को भी काफी पोषक माना जाता है. बता दें कि इसमें कई औषधीय गुण पाए जाते हैं. इसके अलावा सहजन के बीजों का भी तेल नि‍काला जाता है. कई विशेषज्ञों का दावा है कि सहजन के उपयोग से लगभग 300 से ज्यादा रोग का इलाज का जा सकता है. इसमें विटामिन, एंटी ऑक्सीडेंट, पेन किलर समेत 18 तरह के एमिनो एसिड मौजूद होते हैं.

इतनी होगी कमाई

अगर आपने एक एकड़ में सहजन का पौधा लगाया है, तो इसमें लगभग 50 से 60 हजार रुपए की लागत लगती है. आप केवल इसकी पत्तियों को बेचकर ही सालाना 60 हजार रुपए तक कमा सकते हैं. इस तरह सहजन के उत्पादन से सालना 1 लाख रुपए तक की कमाई आसानी से हो जाती है.

ये खबर भी पढ़ें: राज्य सरकार कामधेनु डेयरी योजना के तहत डेयरी लगाने के लिए देगी 90 प्रतिशत तक लोन, जानें शर्तें और आवेदन की प्रक्रिया



English Summary: New Business Idea, the business of drumstick farming will give profits for 10 years

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in