MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. खेती-बाड़ी

July Crops & Animal Husbandry: जुलाई में पशुओं को हो सकती हैं ये रोग, इन फसलों की खेती से मालामाल बन सकते हैं किसान

जुलाई में किसान इन फलों व सब्जियों की खेती से जबरदस्त आमदनी कर सकते हैं. साथ ही बरसात में पशुओं पर भी खास ध्यान रखना होता है. आइए जानें किस तरह रख सकते हैं मवेशियों का ख्याल.

मुकुल कुमार
जुलाई में होने वाले कृषि कार्य
जुलाई में होने वाले कृषि कार्य

कृषि क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए बरसात का महीना बेहद खास होता है. जिन इलाकों में पानी की कमी होती है, वहां बरसात का मौसम किसानों के लिए एक वरदान साबित होता है. भारत के सभी राज्यों में मॉनसून किसी भी समय दस्तक दे सकता है. इसी कड़ी में आज हम यह बताएंगे जुलाई में किसान किन-किन फलों व सब्जियों की खेती से जबरदस्त कमाई कर सकते हैं. वहीं, बरसात के मौसम में मवेशियों पर भी खास ध्यान देना होता है. ऐसे में आज हम यह भी बताएंगे कि पशु को बरसात में कौन-कौन सी बीमारी हो सकती हैं और उन्हें उनसे कैसे बचाया जा सकता है.

जुलाई में इन सब्जियों की करें खेती
जुलाई में इन सब्जियों की करें खेती

जुलाई में इन सब्जियों की करें खेती

जुलाई महीने में किसान करेल, गोभी, टमाटर, स्वीट कॉर्न, बैंगन, ब्रोकली, हरी मिर्च, शिमला, पालक, धनिया आदि अपने खेत में लगा सकते हैं. यह सभी सब्जियां लगभग दो से तीन महीने में तुड़ाई के लिए तैयार हो जाती हैं. चूंकि बरसात में पानी की समस्या नहीं होती है. इसलिए, जुलाई में इन सब्जियों की बुवाई के बाद इनपर ज्यादा ध्यान देने की भी जरुरत नहीं पड़ती है. वहीं, सितंबर और अक्टूबर के बीच बाजार में इन सब्जियों के भाव भी आसमान पर होते हैं. ऐसे में किसान इन्हें उगाकर जबरदस्त कमाई कर सकते हैं.

जुलाई में उगाएं ये फल
जुलाई में उगाएं ये फल

जुलाई में उगाएं ये फल

बरसात के मौसम में सब्जियों के साथ फल भी तेजी से तैयार होते हैं. ऐसे में किसान जुलाई के महीने में अनार, बेर, अमरुद, अंगूर, शरीफा, चीकू, अनानस, स्ट्रॉबेरी, तरबूज आदि उगा सकते हैं. यह सभी फल सदाबहार हैं. इन्हें हमेशा खूब पसंद किया जाता है. बाजार में इन फलों की काफी डिमांड है. इस फलों की खेती से किसान अपनी कमाई काफी बढ़ा सकते हैं.

यह भी पढ़ें- July Agriculture Work: जुलाई माह के कृषि एवं बागवानी कार्य

पशुओं का करें बचाव
पशुओं का करें बचाव

पशुओं का करें बचाव

अगर आपने पशुपालन किया है तो बारिश के मौसम में आपको अलर्ट हो जाना चाहिए. दरअसल, बरसात में पशुओं को कुछ ऐसे रोग पकड़ लेते हैं, जिनसे उनकी जान भी जा सकती है. जैसे कि पशुओं को बारिश के मौसम में लंगड़ा बुखार, गलघोटू, पेट में कीड़ा, दस्त, फड़ सूजन, वायरस, त्वचा रोग आदि जैसी बीमारियां आसानी से पकड़ सकती हैं. ऐसे में अगर इन रोगों को पहचान कर सही समय पर इलाज नहीं कराया गया तो मवेशियों की जान भी जा सकती है. वहीं, इन बीमारियों से बचाने के लिए पशुओं को बरसात में पानी में भीगने से बचाना होगा. इसके अलावा, चारा भी उन्हें ऐसा देना है, जिसमें नमी बिल्कुल न हो. वहीं, डॉक्टर से सपर्क कर सभी जरुरी टीके भी लगवाना आवश्यक है. साथ पशुओं को हमेशा पोंछते रहें और उन्हें किसी साफ स्थान पर रखना है. ऐसा करने से जानवरों में बीमारी नहीं फैलेगी.

English Summary: July month farming activity vegetables fruits animal care see here Published on: 19 June 2023, 12:53 PM IST

Like this article?

Hey! I am मुकुल कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News