MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. खेती-बाड़ी

Frost Attack: किसानों के लिए जरूर खबर, पाला पड़ने पर भूलकर भी न करें ये काम, नहीं तो बर्बाद हो जाएगी फसल

Frost Attack: सर्दियों में किसानों के सामने सबसे बड़ी समस्या पाले की रहती है. ऐसे में सर्दियों के दौरान किसानों को अपनी फसलों का खास ध्यान रखना चाहिए. इस दौरान कुछ ऐसे काम हैं, जो किसान भूलकर भी न करें. नहीं तो उनकी फसल बर्बाद हो जाएगी.

KJ Staff
पाला पड़ने पर किसान भूलकर भी न करें ये काम
पाला पड़ने पर किसान भूलकर भी न करें ये काम

Frost Attack: देश में सर्दी की समस्या बढ़ती जा रही है और यह मुख्य रूप से मैदानी और पहाड़ी राज्यों में देखने को मिल रही है. इसके प्रभाव से तापमान में लगातार कमी दर्ज की जा रही है. जिससे लोगों को सामने कई परेशानियां खड़ी हो गई हैं. विशेष रूप से बढ़ती ठंड के चलते किसानों के सामने बड़ी समस्या खड़ी हो गई है. जिससे किसान काफी चिंतित है. उत्तर भारत के क्षेत्रों में कड़कड़ाती सर्दी पड़ रही है, जिसके कारण किसानों को अपनी फसलें बचाने में समस्या पेश आ रही है. कड़कड़ाती ठंड के कारण रबी सीजन की कई फसलों को नुकसान हो रहा है.

ठंड के मौमस में आलू, टमाटर, मिर्च और बैंगन जैसी सब्जी वाली फसलों में कोहरे और पाले के कारण झुलसा और माहू रोग तेजी से फैलता है. इसलिए ठंड के दौरान किसानों को अपनी फसलों को विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए. इस दौरान कुछ ऐसे काम हैं, जो किसानों को भूलकर भी नहीं करने चाहिए. आइए आपको इसके बारे में विस्तार से बताते हैं.

पाल पड़ने पर भूलकर भी न करें ये काम

पाला पड़ने पर खेत में जूताई करने से बचें. क्योंकि ऐसा करने से जमीन का तापमान कम हो जाता है. अगर आपके क्षेत्र में बारिश के आगमन का पूर्वानुमान है, तो सिंचाई करने से बचें. क्योंकि ज्यादा नमी होने पर सब्जी उगाने वाली फसलों को क्षति हो सकती है. अधिक नमी वाले मौसम में सब्जी की फसल में बीमारियां लगने की संभावना बढ़ जाती है.

खेतों को पूरी तरह सूखा नहीं रखें

हम सब जानते हैं कि फसल में पाला तब लगता है जब शीतलहर चलती है. इसके कारण पौधे के तने में जलवाष्प जम जाता है जिससे उसकी ग्रोथ रुक जाती है. इससे निपटने का पहला तरीका यह है कि खेत में पानी का स्तर कम रखें। परन्तु यह ध्यान रखना भी जरूरी है कि खेत की मिट्टी पूरी तरह सूखी न होने पाए। विशेषज्ञ बताते हैं कि गीली मिट्टी सूखी मिट्टी के मुकाबले अधिक फायदेमंद है. इसलिए, अपने खेतों की देखभाल के लिए, खेत की नमी बनाए रखना या ठंडी लहर के अनुसार पानी देने को सलाह दी जाती है. याद रखें, खेतों में जलभराव न करें. लेकिन, खेत को सूखा भी न रखें. ऐसे में किसान हल्की सिंचाई जरूर करें.

फसलों के उत्पादन पर पड़ता है असर

फसलों और सब्जियों में पाला लगने से उनकी उपज और क्वालिटी दोनों प्रभावित होती है. कृषि वैज्ञानिकों के अनुसार पाला लगाने से पौधों के पत्तियां झुलस जाती हैं और टहनियां नष्ट हो जाती हैं. इसके कारण पौधों में रोगों का प्रसार बढ़ जाता है. साथ ही फसलों के फूल मुरझा और सिकुड़ जाते हैं. वहीं फूलों के झड़ने से पैदावार कम हो जाती है और कई बार फसल भी कमजोर होकर मर जाती है. इससे फसल के उत्पादन पर सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है. इससे कभी-कभी पूरी फसल नष्ट हो जाती है. ऐसे में किसान इन सब बातों को विशेष ध्यान रखें.

English Summary: How to protect crop form forest attack tips to protect your crop during winters rabi crops Published on: 25 January 2024, 02:34 PM IST

Like this article?

Hey! I am KJ Staff. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News