1. कंपनी समाचार

यूपीएल कंपनी ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पीएम केयर फंड में दिए 75 करोड़ रूपए

फसल सुरक्षा उत्पाद निर्माता कंपनी यूपीएल लिमिटेड (UPL limited) ने लोगों को जानलेवा कोरोनावायरस के खतरे से बचाने के लिए पीएम केयर्स फंड (PM Care Fund) में 75 करोड़ रुपए का योगदान दिया है. इसके साथ ही यह कंपनी सुरक्षा उपकरण ( protective equipment) भी मुहैया करवा रही है, ताकि इस कोरोनावायरस की समस्या से लड़ा जा सके. इसके अलावा इस कंपनी ने गुजरात में वापी स्थित 2 शिक्षा संस्थानों के परिसर को क्वारंटीन सेंटर (Quarantine Centre) बनाने की व्यवस्था भी कर ली है, ताकि आवश्यकता पड़ने पर इनको इस्तेमाल में लाया जा सके.

आधुनिक यांत्रिक मशीनों से होगा छिड़काव

इसपर कंपनी के सीईओ (CEO) जय श्रॉफ ने बताया कि हम देश की सेवा और इस वायरस के विरुद्ध  लड़ाई में अपने संसाधनों और विशेषज्ञताओं के साथ सहायता करने के लिए पूरे दृढ़ निश्चय से खड़े हैं. हमने इस बीमारी को रोकने के लिए लगभग 200 आधुनिक यांत्रिक छिड़काव मशीनों (Modern mechanical spraying machines) और 225 मेंबर्स का स्टाफ काम में संलग्न कर केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा किए प्रयासों में मदद करेगा.  हमारी टीमें ज्यादातर अस्पतालों, सड़कों, पुलिस स्टेशनों से लेकर रेलवे स्टेशनों और नगर निगमों आदि विभिन्न सार्वजनिक और निजी स्थानों में संक्रमण नाशक (Infection destroyer ) को स्प्रे कर रही है ताकि स्थानीय प्रशासन की सहायता हो और सार्वजनिक स्थानों (Public Places) को संक्रमण मुक्त बनाया जा सके.

हैंड सैनिटाइजर भी करेंगे तैयार

हमारी कंपनी अब तक गुजरात, तेलंगाना, महाराष्ट्र हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश में 11.5 लाख लीटर कीटाणुनाशक घोल का छिड़काव कर चुकी है. इसके अलावा हमारी अन्य राज्यों में भी छिड़काव की तैयारी जारी है और हम हैंड सैनिटाइजर भी तैयार कर रहे है. जिससे इस समस्या को रोकने में मदद मिले.

English Summary: UPL company given Rs 75 crore in PM Care Fund to fight coronavirus

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News