सोनलीका ट्रैक्टर्स विकास की राह पर, मई '18 में दर्ज की 9714 ट्रैक्टरों की बिक्री

किसानों के बीच सोनालीका ट्रैक्टर्स काफी प्रसिद्ध नाम बना हुआ है। पिछले कई वर्षों से यह कंपनी किसानों को खेती में प्रयोग होने वाली कई तरह के उपकरणों को बना रही है। कंपनी हर साल कुछ अलग करने का प्रयास करती है और इस वर्ष भी कंपनी ने नया मुकाम हासिल किया है। सोनालीका ट्रैक्टर्स के निर्माता इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड (आईटीएल) ने होशियारपुर में विशव का नंबर 1 और सबसे बड़ा एकीकृत ट्रैक्टर निर्माण प्लांट स्थापित किया है। इसके साथ ही कंपनी ने मई, 2018 के महिने में कुल 9714 ट्रैक्टरों की बिक्री दर्ज की है जो कि पिछले साल की इसी अवधि में दर्ज 8335 ट्रैक्टर्स का तुलना में 16.5% की शानदार बढ़त है।

इस अवसर पर रमन मित्तल, कार्यकारी निदेशक, सोनालीका आईटीएल ने कहा, " हम वित्त वर्ष 2019 के शुरुआती महीनों में अपनी शानदार परफॉर्मेंस से बेहद खुश हैं। इस वृद्धि से आने वाले महीनों में बेहतर प्रदर्शन को लेकर हमारे विशवास को और पुख्ता बनाया है। हमारा मानना है कि अपने केंद्रित प्रयासों के परिणामस्वरूप हम इस साल भी बेहतरीन विकास हासिल कर सकते हैं। केरल में मानसून के पहुंचने तथा अन्य स्थानों पर मानसून के अनुकूल रहने की खबरों से किसानों का उत्साह बढ़ेगा। अंतरराष्ट्रीय तथा घरेलू बाजारों में शानदार विकास के दम पर हम बाजार में दीग्गज तथा 4 देशों में नंबर 1 ब्रांड बने रहेंगे। सोनालीका में हम लगातार सर्वश्रेष्ठ कृषि समाधान मुहैया कराने की दिशा में प्रयासरत हैं जिनसे किसान उत्पादकता और अपनी आमदनी बढ़ा सकें।"

बता दें कि सोनालीका इंटरनैशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड भारत का सबसे युवा और सर्वाधिक तेजी से बढ़ने वाला ट्रैक्टर ब्रॉन्ड है। और होशियारपुर में स्थापित प्लांट की सालाना क्षमता 3 लाख ट्रैक्टरों की है।  

Comments