1. कंपनी समाचार

150 से अधिक विशेषज्ञ पूरा करेंगे सोनालिका के लक्ष्य को...

देश के नंबर 1 ट्रैक्टर ब्रांड सोनालीका इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड (आईटीएल) ने वर्ष 2017-18 में एक लाख ट्रैक्टर्स की बिक्री की उपलब्धि हासिल करने के बाद अब अगले पांच वर्ष 2023-24 में अपनी वार्षिक बिक्री को 2 लाख ट्रैक्टर्स तक पहुँचाने का लक्ष्य रखा हैं। इस लक्ष्य के अंतर्गत, सोनालिका आर एंड डी  केंद्र स्थापित करने के लिए 200 करोड़ रुपए निवेश कर रही है।  बढ़ते मांग और नए प्रोडक्ट्स के विकास को पूरा करने के लिए कंपनी दुनियां के नंबर 1 सबसे बड़े एकीकृत ट्रैक्टर में नवीनतम प्रौद्योगिकियों  और मशीन को बनाने के लिए 250 करोड़ रुपए  का निवेश कर रही हैं।

सोनालिका ने 2018 मई के महीने में 9714 ट्रैक्टर्स की बिक्री की है जो की पिछले साल की इस अवधि में दर्ज 8335 ट्रैक्टरों की तुलना में 16.5% की बढ़त हैं।

आर एंड डी सयंत्र के बारे में रमन मित्तल, कार्यकारी निदेशक, ने कहा, इनोवेशन केंद्र लगातार नवोन्मेषी और प्रौद्योगिकी के लिहाज से बेहतर उत्पाद मुहैया कराकर किसान केंद्रित होने के हमारे विश्वास से मिलता हैं। 2023-24 तक २  लाख ट्रैक्टर की बिक्री करने की रस्ते में हमारा यह पहला कदम है।

कृषि मैकेनाइजेशन  समाधान में किसानो की मांगों को पूरा करने के लिए वह इस सयंत्र के लिए 150 से ज़्यादा क्षेत्र विशेषज्ञों को भर्ती कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि विभिन्नं श्रेणियों में सहयोग से सफल इनोवेशन को बढ़ावा मिलता है। यह इनोवेशन केंद्र यूरोप और अमेरिका समेत वैश्विक बाज़ारों के उत्सर्जन एव सुरक्षा नियमो को पूरा करने के लिए समसामयिक और भविष्य की प्रौद्योगिकी की दिशा में काम कर रहा है।

भविष्य को ध्यान में रख कर इनोवेशन और आर एंड डी केंद्र की स्थापना वैश्विक तौर पर भारत की वृद्धि में एक महत्वपूर्ण कदम हैं। एकीकृत ट्रैक्टर विनिमार्ण सयंत्र,मजबूत डीलरशिप 100 देशों में 8 लाख से ज़्यादा किसानो का भरोसा और कृषि समुदाय की सेवा में सोनालिका दुनिया का नंबर 1 ट्रैक्टर ब्रांड बनने के लिए तैयार हैं। 

English Summary: More than 150 experts will complete the goal of Sonalika ...

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News