Corporate

अब ट्रिंगो देगा किसानों को अपनी सेवा

अच्छी खेती और कृषि उपकरणों के सही समय पर ना मिलने की मार झेल रहे किसानों को राहत पहुंचाने के लिए महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी ने एक अच्छी पहल की है। जी हां, महिंद्रा एंड महिंद्रा ने बहुप्रतिक्षित ट्रिंगो योजना का कर्नाटक के कोप्पल जिले में अपनी पहली कस्टम हायरिंग केंद्र का शुभारंभ कर दिया जिसका उद्घाटन कर्नाटक के कृषि मंत्री कृष्ण बीर गौड़ा के कर कमलों द्वारा किया गया। इस अवसर पर अन्य कंपनियों के आला अधिकारी भी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

इस अवसर पर कंपनी के सीईओ अरविंद कुमार ने कहा कि हम कोप्पल में ट्रिंगो की पहली कस्टम हायरिंग केन्द्र का उद्घाटन करने के लिए बेहद उत्साहित हैं। ट्रिंगो ग्रामीण समृद्धि में एक निर्णायक भूमिका निभाएगी। उन्होंने बताया कि हमारे कस्टम हायरिंग केन्द्रों का पहला सेट सीधे किसानों तक पहुंचेगा जिसका इस्तेमाल किसान अपने अनुरूप कर सकेंगे। इसके अलावा, इससे ग्रामीण रोजगार को बढ़ावा मिलेगा और आवश्यकता एवं उपलब्धता के बीच की खाई को पाटने मे भी मदद मिलेगी। साथ ही किसानों के बीच ट्रैक्टरों की आसान पहुंच बनेगी। उन्होंने कहा कि अपने उद्देश्यों की पूर्ति के लिए कर्नाटक हमारे लिए महत्वपूर्ण बाजार है। ट्रिंगो को जल्द ही गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और राजस्थान में लागू किया जाएगा।

गौरतलब है कि ट्रिंगो, महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी की एक खास तरह की कृषि उपकरण एग्रीगेटर सेवा है जो किसानों को किसी भी निवेश के बिना उनकी खेती की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए ट्रैक्टर और अन्य यंत्रीकृत कृषि उपकरण किराए पर उपलब्ध कराएगी। इसके लिए किसान को कंपनी की तरफ से जारी हेल्पलाइन नंबर 18002662668 पर सिर्फ एक कॉल काल करना होगा और ट्रिंगो हर तरह की सेवाएं देने के लिए उपलब्ध हो जाएगा।



Share your comments