Corporate

अब इफको किसान के जल्दी ही “स्वर्णहार” के नाम से मसाले उपलब्ध होंगे

mou

इफको किसान निरंतर किसानों के विकास के लिए सक्रिय रहा है। अभी तक इफको किसान ने किसानों को ग्रीन सिम के माध्यम से उन्नत कृषि सलाह प्रदान कर प्रगति की रहा दिखाई है। इफको किसान संचार लिमिटेड का मुख्य उद्देश्य ग्रामीणो को समय पर कार्यवाई हेतु उचित जानकारी प्रदान कर टिकाऊ व्यवहार्य तरीकों से सशक्त बनाना है। पूरे देश में 50 लाख से ज्यादा किसान भाई कृषि सलाह से लाभान्वित हो रहे है। इफको किसान एफ़पीओ और को-ओपरेटिव के माध्यम से किसानों से जुड़ कर उनको सशक्त बनाने में सहयोग कर रहा है। इफको किसान हमेशा किसानों की प्रगति के लिए नई रहा चुनता आया है। पशुपालकों के लिए हाल ही में इफको किसान ने उच्च गुणवत्ता के पशु आहार 5 स्टार और 4 स्टार ब्राण्ड के तहत उपलब्ध कराये है। जो अभी पंजाब, हिमाचल, और हरियाणा में उपलब्ध हैं। जल्दी यह 5 स्टार और 4 स्टार पशु आहार तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश और कर्नाटका में भी उपलब्ध होंगे। इफको किसान, किसान द्वारा बनाए गए किसान उत्पादक समूहों के साथ जुड़ कर उनके द्वारा उत्पादित उत्पादों को अच्छे बाजार भाव में बेचने में मदद कर रहा है।

chicken masala

किसानों को सक्षम और सशक्त बनाने के उद्देश्य से इफको किसान को-ओपरेटिव और एफ़पीओ के साथ जुड़ कर कार्य कर रहा है। जिससे इनसे जुड़े किसानों को उनके द्वारा उत्पादित उत्पादों को बेहतर बाजार उपलब्ध हो सके। इसी उद्देश्य की पूर्ति हेतु आज इफको किसान ने एक और कदम बढ़ाया है। आज दिनाँक 5 अगस्त को इफको किसान के प्रबन्ध निदेशक श्री संदीप मल्होत्रा और एरोड़ एपीसीएमएस (एग्रिकल्चर प्रोड्यूसर को-ओपरेटिव मार्केटिंग सोसाइटी) तमिलनाडू के प्रबन्ध निदेशक श्री पी॰ कंदराजा जी ने मिलकर एक एम॰ ओ॰ यू॰ साइन किया है जिसके तहत अब इफको किसान अपने देश वासियों के लिए “स्वर्णहार” के नाम से मसाले उत्पाद उपलब्ध कराएगी।

इफको किसान के मुख्य विपणन अधिकारी नवीन चौधरी ने बताया की देश मैं कुल कृषि क्षेत्र के लगभग 32 लाख हेक्टर क्षेत्र में मसालों की खेती की जाती है। जिससे लगभग 60 लाख टन मसालों का उत्पादन होता है। भोजन के बेहतर स्वाद के लिए मसालों की अहम भूमिका है।लेकिन आज मिलावट के इस युग में गुणवत्ता और शुद्धता युक्त मसाले ने मिल पाने के कारण भोजन का स्वाद खराब होता जा रहा है। साथ ही मानव स्वास्थ पर ही काफी नकारात्मक असर हो रहा है। इफको किसान का मुख्य उद्देश किसानों को प्रगति की रहा से जोड़ना है।

meat masala

इसी लिए इफको किसान ने एग्रिकल्चर प्रोड्यूसर को-ओपरेटिव मार्केटिंग सोसाइटी एरोड़ के साथ एम॰ ओ॰ यू॰ किया है। जिससे को-ओपरेटिव और एफ़पीओ से जुड़े किसानों को उनके द्वारा उत्पादित मसालों का उचित मूल्य मिल सकें और हमारी रसोई में उच्च गुणवत्ता के मसालों का समायोजन हो सके। इन सभी तथ्यों को ध्यान में रखते हुये अब इफको किसान उच्च गुणवत्ता के शुद्ध मसाले अपने उपभोक्ता के लिए किसानों के खेत से जन-जन की रसोई तक पहुंचाने का कार्य करेगी।

इफको किसान यह मसाले “स्वर्णहार” के नाम से ला रही है। वर्तमान में हल्दी, मिर्च, सब्जी मसाला, सांभर मसाला, गरम मसाला, चिकन मसाला, मटन मसाला और रसम पाउडर आदि मसाले उपलब्ध होंगे।

rasam powder

अभी इनकी उपलब्ध्ता यूपी पूर्व, उतराखंड और राजस्थान में होगी। लेकिन जल्दी ही यह पूरे देश में उपलब्ध होंगे। अभी इन मसलों की उपलब्धता के लिए बाजार में डिस्ट्रीब्यूटर और रिटेलर नियुक्त किए जा रहे है। जिससे “स्वर्णहार” मसालों की उपलब्ध्ता को सुगम बनाया जा सके।इसकी अधिक जानकारी के लिए सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक फोन नंबर 011-46729904 पर सम्पर्क कर सकते है।

मुख्य विपणन अधिकारी श्री नवीन चौधरी ने आगे बताया कि इफको किसान आज उच्च गुणवत्ता के शुद्ध मसाले लेकर आई है। जल्दी ही निकट भविष्य सभी फूड उत्पाद भी बाजार में लेकर आएगी।



Share your comments