1. कंपनी समाचार

Escorts Tractors: एस्कॉर्ट्स ट्रैक्टर ने अप्रैल 2020 में बेची 705 ट्रैक्टर यूनिट्स, 86.6 फीसदी की गिरावट दर्ज

सुधा पाल
सुधा पाल

हाल ही में ट्रैक्टर निर्माता कंपनी एस्कॉर्ट्स की अप्रैल 2020 सेल्स रिपोर्ट सामने आयी है. इस रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी ने पिछले साल के मुकालबले कम ट्रैक्टर बेचे हैं. रिपोर्ट्स की मानें तो एस्कॉर्ट्स लिमिटेड एग्री मशीनरी सेगमेंट (EAM) ने अप्रैल 2020 में केवल 705 यूनिट की ही बिक्री की है. वहीं इससे पहले यानी अप्रैल 2019 की बात करें तो कंपनी ने 5,264 ट्रैक्टर यूनिट्स बेची थीं. इस तरह ESCORTS TRACTORS की सेल में 86.6 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है.

आपको बता दें कि इस बार अप्रैल 2020 में घरेलू ट्रैक्टर की सेल (DOMESTIC SALE) 613 यूनिट्स की रही. वहीं अप्रैल 2019 में यह सेल 4,986 यूनिट्स थी. इसके साथ ही कंपनी ने जहां पिछले साल अप्रैल 2019 में 278 ट्रैक्टरों का निर्यात किया था, वहीं इस बार अप्रैल 2020 में केवल 92 ट्रैक्टरों का निर्यात ही कंपनी कर पाई.

क्या है इसकी वजह?

जहां इस समय हर तरफ कोरोना का प्रभाव देखने को मिल रहा है, हर वर्ग के लोगों और क्षेत्र पर इसका बुरा असर पड़ा है, वहीं एस्कॉर्ट्स कंपनी भी इसकी चपेट में आयी है. एस्कॉर्ट्स के साथ ही बाकी कई ट्रैक्टर कंपनियों पर भी COVID 19 का गहरा प्रभाव देखने को मिला है. ऐसे में इस गिरावट की सबसे बड़ी वजह फिलहाल कोरोना महामारी ही है. यह साफ देखा जा सकता है कि लॉकडाउन की वजह से ज्यादातर क्षेत्रों में अप्रैल में डीलरशिप बंद रही, न डीलर्स का पता और न ही खरीदने वाले ग्राहकों का.

वहीं रिपोर्ट में यह भी बताया जा रहा है कि 20 अप्रैल को केंद्र सरकार द्वारा एग्री मशीनरी की बिक्री में छूट की घोषणा की गयी थी. इस घोषणा के बाद ही महीना खत्म होने तक सबसे ज्यादा सेल दर्ज की गई. इस समय lockdown 3.0 की शुरुआत हो चुकी है. रबी फसलों की अच्छी पैदावार, फसलों की सरकारी खरीद और कृषि क्षेत्र को मिल रहे बढ़ावे से इस बात की उम्मीद की जा रही है कि ट्रैक्टर इंस्ट्री में आने वाले दिनों में हालत बेहतर हो सकते हैं.

English Summary: escorts sale affected during april 2020 due to lockdown and corona

Like this article?

Hey! I am सुधा पाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News