1. बाजार

Corona Virus: भारतीय उद्योग पर कोरोना का कहर, कई सेक्टरों पर पड़ रहा बुरा असर

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
corona virus

चीन में कोरोना वायरस ने कोहराम मचा दिया है. यह वायरस एक हजार से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है, तो कई लोगों को अपनी चपेट में अभी भी ले रखा है, लेकिन अब यह वायरस दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी चीन की अर्थव्यवस्था पर भी गहरा आघात कर रहा है, जिसका असर भारत पर भी दिखाई देने लगा है. कहा जा रहा है कि अगर कुछ दिनों में चीन के हालात सामान्य नहीं हुए, तो भारतीय उद्योग जगत को कई बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा. 

इन क्षेत्रों में आने लगी दिक्कतें

आपको बता दें कि कोरोना वायरस ने भारतीय उद्योग पर असर डालना शुरू कर दिया है. इस वक्त जिन क्षेत्रों में सबसे ज़्यादा दिक्कतें आने लगी हैं वो ऑटोमोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक्स और फार्मा सेक्टर हैं. इसके अलावा बच्चों के खिलौने भी महंगे होने लगे हैं, तो वहीं कुछ दिनों में बाजार से खिलौने गायब भी हो सकते हैं. इसका बुरा प्रभाव यह है कि अब खिलौनों की कालाबाज़ारी होने लगी है, तो वहीं इसके ज़्यादा दाम भी वसूले जा रहे हैं.

industry sectors.

भारत और चीन के बीच व्यापार

भारत और चीन के बीच कई क्षेत्रों को लेकर व्यापार किया जाता है. अगर साल 2018-19 की बात करें, तो इस साल दोनों देशों के बीच कुल मिलाकर 87 अरब डॉलर का व्यापार हुआ था,  इसमें सबसे ज़्यादा आयात शामिल है. बता दें कि भारत में इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑटोमोबाइल, फार्मा, टेक्सटाइल जैसे कई उद्योग हैं, जो चीन से आयात होने वाले सामान के बिना अधूरे माने जाते हैं, लेकिन चीन में  कोरोना वायरस के चलते यह आयात थमा हुआ है, जिसका असर अब बाजार में दिखने लगा है. इतना ही नहीं, चीन में कई फैक्ट्री बंद भी हो चुकी हैं. ऐसे में चीन से आयात होने वाले सामान पर असर पड़ना लाज़मी है.

अरब डॉलर में चीन से होने वाला आयात (2018-19)

  • इलेक्ट्रॉनिक्स (20.6)

  • मशीनरी (13.4)

  • ऑर्गेनिक केमिकल्स (8.6)

  • प्लास्टिक आइटम (2.7)

indian industry

अरब डॉलर में भारत से होने वाला निर्यात  (2018-19)

  • ऑर्गेनिक केमिकल्स (3.2)

  • मिलरल फ्यूल (2.8)

  • कॉटन (1.8)

  • ओर्स (1.2)

ये खबर भी पढ़ें: LPG Cylinder: आम आदमी को तगड़ा झटका, रसोई गैस सिलेंडर के दामों ने तोड़ा सालों का रिकॉर्ड

 

 

English Summary: corona virus has affected indian industry in many sectors

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News