Commodity News

शुरूआत में ही धड़ाम से गिरे बासमती के भाव, गैर-बासमती ने भी किया निराश

basmati

बासमती चावल की अगेती फसल तैयार होने के बाद पंजाब की मंडियों में बहार है. सबसे ज्यादा मांग इस समय फाजिल्का, अजनाल एवं कोटपूरा की है. हालांकि पिछले साल के मुकाबले इस बार इनके भावों में गिरावट आई है, जिसके कारण किसान निराश हैं. बता दें कि हर बार कि तरह इस बार भी पंजाब में किसानों ने बासमती की खेती बाकि राज्यों की अपेक्षा पहले शुरू कर दी थी, लेकिन इस साल भावों में गिरावट आई है. चलिये आपको बताते हैं पंजाब के तमाम मंडियों में बासमती और गैर-बासमती चावल किन-किन भावों में बिक रहे हैं.

पंजाब के जाने-माने फाजिल्का अनाज मंडी में 5 सितम्बर को 20 क्विंटल बासमती 1,509 रु में बिकी. जानकारी के मुताबिक फर्म बेहानी एग्रो की तरफ से 2,615 रु प्रति क्विंटल की दरों पर बासमती खरीदी गई. इसी तरह कोटकपूरा मंडी में बासमती 2,600 में बिकी. वहीं अजनाला की मंडी में बासमती 1,509 के भावों में बिकी.

कुल मिलाकर देखा जाये तो अभी तक सभी बोलियां 2,500 -2,700 के मध्य ही लगी है. जबकि पिछले साल की शुरआत में ही किसानों के चेहरे खिल गए थे और शुरूआती बोलियां भी 3000 के ऊपर लगी थी. बता दें कि इससे पहले मई माह में बासमती के भावों में 600 से 700 रु तक की बढ़त हुई थी. लेकिन किसानों ने अपनी फसलें पहले ही बेच दी थी, जिस कारण बढ़े हुए भावों का फायदा उन्हें नहीं मिला था.

गैर-बासमती चावल ने भी किया किसानों को निराश एक तरफ जहां बासमती चावल ने किसानों के चेहरे पर मायूसी ला दी है, वहीं गैर-बासमती चावल ने भी उन्हें निराश किया है. देश में चावल के भाव बढ़ने से मांग में जबरदस्त गिरावट आई है. वहीं निर्यात मांग भी सुस्त देखी जा रही है. इस बार पिछले साल के मुकाबले निर्यात तकरीबन 37 फीसदी घटा है.

सम्बन्धित खबर पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें !

Onion Price Today : केंद्र सरकार ने की प्याज में कीमतों में बड़ी गिरावट



Share your comments