1. बाजार

प्याज के रुलाने के बाद अब टमाटर की कीमत में आया बड़ा उछाल

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
tamato price

त्योहारी सीजन के दौरान दिल्ली सहित देश के लगभग सभी हिस्सों में आसमान छूती कीमतों के कारण प्याज सुर्खियों में बना रहा था. अभी भी कई राज्यों में प्याज के दाम आसमान छू रही है. इसके साथ ही  टमाटर के भी दाम आसमान छू रही है. अगर हम यह कहें कि प्याज के बाद से टमाटर कि रुलाने कि बारी है तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी. मीडिया में आई ख़बरों के अनुसार, कर्नाटक सहित टमाटर उत्पादक प्रमुख राज्यों में भारी बारिश और बाढ़ के कारण टमाटर का खुदरा मूल्य दिल्ली-एनसीआर में बुधवार को 80 रुपये प्रति किलोग्राम था. गौरतलब है कि बाढ़ की वजह से इसकी आपूर्ति काफी ज्यादा मात्रा में प्रभावित हुई है.

दरअसल पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश और बाढ़ से जूझ रहे प्रमुख राज्यों से कम आपूर्ति के कारण टमाटर अधिक महंगे हो गए हैं. जिसके चलते अब टमाटर मदर डेयरी के सफल आउटलेट में 58 रुपये प्रति किलो तक बेचे जा रहे है. गुणवत्ता और स्थानीयता के आधार पर बुधवार को स्थानीय बाजार और विक्रेताओं ने टमाटर 60  से 80 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से बेचे.

tomato

अगर हम केंद्र सरकार के आंकड़ों के बारे में बात करें तो दिल्ली में टमाटर का औसत खुदरा मूल्य 1 अक्टूबर से 45 रुपये प्रति किलो से बढ़कर 9 नवम्बर( बुधवार) को 54 रुपए प्रति किलोग्राम हो गया है. इसके अलावा, अधिकांश मेट्रो शहर खुदरा दुकान में भी टमाटर की आसमान छूती कीमतों से लोग परेशान हैं.एक रिपोर्ट के अनुसार, कोलकाता में टमाटर 60 रुपये प्रति किलो में, मुंबई में 54 रुपये प्रति किलोग्राम और चेन्नई में 40 रुपये प्रति किग्रा में बिक रहा है.

दूसरी ओर, सहकारी राजधानी नेफेड, एनसीसीएफ और मदर डेयरी के माध्यम से विभिन्न फसलों के कारण राष्ट्रीय राजधानी में प्याज की कीमत नियंत्रण में आ गई है. ये सहकारी समितियां रुपये की सस्ती दर पर प्याज बेच रही हैं. हालांकि, खुदरा बाजार में कीमत अभी भी अधिक है.

अगर प्याज के दाम कम नहीं हुए तो सभी प्याज बाजार अनिश्चितकाल तक बंद रहेंगे !
English Summary: after onion tomato price increases to rupees 80 per kg in these states

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News