1. बाजार

जैविक खेती के लिये वरदान है साडा वीर के उत्पाद, अब होगा बंपर मुनाफा

सिप्पू कुमार
सिप्पू कुमार
sada veer

बदलते हुए समय की साथ खेती करने के तरीकों में भी जबरदस्त बदलाव आया है. मौजूदा वक्त की मुख्य चुनौती फसलों की उत्पादक्ता जैविक तौर पर बढ़ाने की है. इसमे कोई दो राय नहीं कि किसान जिन रसायनों एवं दवाईयों का इस्तेमाल उत्पादक्ता बढ़ाने के लिए कर रहे हैं, वही रसायन और उत्पाद उसके खेत एवं फसल को विषाक्त बना रहें हैं. खतरनाक रसायनों या दवाइयों की मदद से किसान अपनी उपज तो बढ़ा लेता है, लेकिन समय के साथ उसे ये समझ आता है कि उत्पादक्ता बढ़ाने वाली दवाओं ने वास्तव में उसके खेत को धीरे-धीरे बाँझ बनाने का काम किया है. शायद यही कारण है कि एक बार फिर जैविक खेती का चलन बढ़ रहा है.

आज जैविक खेती में न सिर्फ बहुत अच्छा अवसर है, बल्कि बंपर मुनाफा भी है. इसलिए आज किसान भाई अपने फसलों की उपज बढ़ाने के लिये जैविक दवाइयों या उत्पादों की खोज कर रहें हैं. अगर आप भी अपने फसलों एवं खेतों की सेहत के साथ बिना खिलवाड़ किये उत्पादक्ता बढ़ाना चाहतें हैं, तो आपके लिये न्यूरीकेयर बायो साइंस प्राइवेट लिमिटेड के उत्पाद फायदेमंद हो सकतें हैं.

sadaveer dungus

बता दें कि ये कंपनी एग्रीकल्चर सप्लीमेंट के साथ-साथ वेटरनरी सप्लीमेंट प्रोडक्ट्स बनाने के लिए प्रसिद्ध है. कंपनी की सारे उत्पाद फसलों या खेतों को बिना किसी नुकसान के फलने-फूलने में सहायता करतें हैं. वैसे ये कंपनी नुट्रिशन तथा वैलनेस और ब्यूटी तथा पर्सनल केयर के उत्पाद बनाने के लिये भी महशूर है.

एग्रीकल्चर प्रोडक्ट्स की बात करें तो कंपनी के सारे उत्पाद साड्डा वीर नाम से किसानों के लिये उपलब्ध है. जैविक रूप से फसलों की उत्पादक्ता बढ़ाने के लिये 'साड्डा वीर 4जी' सहायक है. ये सभी फसलों जैसे गन्ना, धान आदि की उपज आर्गेनिक तौर पर बढ़ाता है. इसी तरह इसका एक उत्पाद 'साड्डा वीर स्प्रे' नाम से भी प्रचलित है, जो किसानों की लागत कम करते हुए उन्नत खेती को बढ़ावा देता है. पौधों को फंगस से बचाना अपने आप में टेढ़ा खीर माना जाता है. लेकिन कंपनी का एक उत्पाद 'साड्डा वीर बायो फंगस फाइटर' सभी तरह के फफूंदों को खत्म करने में एक्सपर्ट है.

English Summary: nutricare bio science private limited sadda veer agro prodcut famous for organic farming

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News