दक्षिण भारत में हलकी बरसात क्या कहर डालेगी ? जाने 10 अक्टूबर का मौसम

मौसम की बात करैं तो कहीं धुप कहीं छाँव. पहाड़ी क्षेत्रों में अच्छी बर्फ़बारी की सम्भावना है तो दक्षिण भारत में फिर हलकी बरसात हो सकती है, क्योंकि पश्चिमी विक्षोभ अभी भी बना हुआ है उससे निम्न दबाव के कारण मध्यम बारिश और हलके तूफ़ान का अंदेशा रहता है.

पश्चिमी राजस्थान और गुजरात में गर्मी से कोई राहत नहीं मिलने वाली. खेती बाड़ी का काम करने वाले किसान भाई यह देख लें कि कहां-कहां और कैसा मौसम रहेगा, उसके हिसाब से अगर खेती बाड़ी कि जाएगी तो अच्छी फसल कि बढ़ोतरी हो सकेगी.

आने वाले 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है. जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के उच्च स्तरों में बर्फबारी की संभावना है. तटीय कर्नाटक, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल के कुछ हिस्सों, तमिलनाडु के आंतरिक हिस्सों, तटीय ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में मध्यम बारिश जारी रह सकती है.

कोंकण और गोवा, तटीय तमिलनाडु और उत्तराखंड में हल्की बारिश होगी. देश के पूर्वोत्तर राज्यों के बाकी हिस्सों में भी हल्की बारिश की उम्मीद है. पश्चिम राजस्थान और गुजरात में गर्मी से कोई राहत नहीं मिलेगी.

देश भर में बने मौसमी सिस्टम - एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान और आसपास जम्मू-कश्मीर पर स्थित है. इसका प्रेरित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तरपश्चिम राजस्थान और पाकिस्तान के आसपास है.

मध्य प्रदेश, विदर्भ और आसपास के हिस्सों पर एक विपरीत चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र है. बंगाल की पश्चिम-केंद्रीय खाड़ी पर एक डीप डिप्रेशन है और यह अगले 24 घंटों में एक चक्रवाती तूफान, तितली में तब्दील हो जाएगा.

लक्षद्वीप में दक्षिण-मध्य अरब सागर से दक्षिणपूर्व अरब सागर तक ट्रफ रेखा जा रही है.

देश में पिछले 24 घंटों के दौरान दर्ज किया गया मौसम - पिछले 24 घंटों के दौरान, केरल और तमिलनाडु के आंतरिक हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई, एक दो स्थानों पर भारी वर्षा भी देखने को मिली.

लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तटीय कर्नाटक, असम, जम्मू और कश्मीर में मध्यम बारिश हुई.

रायलसीमा और तटीय तमिलनाडु में हल्की बारिश हुई.

तमिलनाडु, पुडुचेरी और असम और मेघालय को छोड़कर देश के अधिकांश हिस्सों में दिन का तापमान सामान्य से ऊपर रहा.

 

साभार: skymetweather.com  

चंद्र मोहन

Comments