1. मौसम

मौसम पूर्वानुमान: इन क्षेत्रों में होगी भारी बारिश

पिछले तीन-चार दिन में मौसम इस प्रकार से रुख बदला कि उत्तर भारत से उत्तरी पचिश्म भारत बर्फ का मैदान हो गया. पिछले 20 सालों में ऐसा पहली बार देखा गया है कि मार्च महीने में इतनी बर्फबारी हुई है.

प्रभाकर मिश्र

पिछले तीन-चार दिन में मौसम इस प्रकार से रुख बदला कि उत्तर भारत से उत्तरी पचिश्म भारत बर्फ का मैदान हो गया. पिछले 20 सालों में ऐसा पहली बार देखा गया है कि मार्च महीने में इतनी बर्फबारी हुई है. इस बर्फबारी से मौसम एक बार फिर से ठंड वाला हो गया है. वैज्ञानिकों का मानना है कि यह बर्फबारी कश्मीर से लेकर राजस्थान तक बने पश्चिमी विक्षोभ के ताकत का प्रदर्शन है. मौजूदा समय की बात करें तो हरियाणा और उससे सटे भागों में चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना है. इसी चक्रवात के चलते ही हरियाणा से झारखंड और विदर्भ से कर्नाटक तक एक ट्रफ रेखा बनी है.

अगले 24 घंटों का मौसम अनुमान

अगले 24 घंटों के दौरान ओडिशा, पश्चिम बंगाल और झारखंड में गर्जना के साथ बारिश होगी. वहीं पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक-दो स्थानों पर भी बारिश होती दिख जाएगी.  अगर पूर्वोत्तर राज्यों की बात करें तो यहां बारिश की गतिविधियां और तेजी पकड़ेगीं. असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है. सिक्किम और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल में भी अच्छी वर्षा के आसार दिख रहे हैं. उत्तर भारत के पहाड़ी और मैदानी राज्यों में अब मौसम साफ हो सकता है. दिल्ली और एनसीआर की बात करें तो अब कुछ दिनों तक बारिश की संभावना नहीं है. इन भागों में दिन के तापमान में व्यापक वृद्धि देखने को मिलेगी.

पिछले 24 घंटे के दौरान मौसम 

पिछले 24 घंटों के दौरान हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अधिकांश स्थानों पर बारिश और बर्फबारी हुई है. पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर मध्यम बारिश के साथ ओले गिरे हैं. झारखंड, ओड़ीशा, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की गतिविधियां देखने को मिलीं.

साभार: skymetweather.com

English Summary: Weather forecast: heavy rain will occur in these areas Published on: 16 March 2020, 11:19 IST

Like this article?

Hey! I am प्रभाकर मिश्र. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News