1. मौसम

Weather Forecast: कई राज्यों में ठंड ने तोड़ा रिकॉर्ड, न्यूनतम पारा 4.1 डिग्री पहुंचा

Weather Forecast

उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के साथ केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में लगातार हो रही बर्फबारी की वजह से मैदानी इलाकों में कंपकंपी बढ़ गई है. दिल्ली में मंगलवार को न्यूनतम पारा 4.1 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया. इससे पहले 1930 में दिल्ली में शून्य डिग्री पारा भी जा चुका है. बर्फीले हवाओं के प्रभाव से मंगलवार सुबह दिल्ली-एनसीआर के लोग ठंड से कांपते नजर आए. इस दौरान दिल्ली का न्यूतनतम तापमान भी गिर गया है. दिल्ली के साथ-एनसीआर के ज्यादातर इलाकों में मंगवलार सुबह कोहरा भी रहा. ऐसे में आइये निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट वेदर के अनुसार जानते हैं आगामी 24 घंटों के मौसम का पूर्वानुमान-

देशभर में बने मौसमी सिस्टम (Countrywide seasonal systems)

उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे भागों पर एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है. अरब सागर के मध्य भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र सक्रिय है. इस सिस्टम से एक ट्रफ रेखा दक्षिणी गुजरात होते हुए पश्चिमी मध्य प्रदेश तक है. इस बीच बंगाल की खाड़ी एक बार फिर से सक्रिय हो रही है. खाड़ी के दक्षिण-पश्चिमी भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र विकसित हो गया है.

अगले 24 घंटों के दौरान संभावित मौसम पूर्वानुमान (Possible weather forecast during next 24 hours)

अगले 24 घंटों के दौरान देश के उत्तर पश्चिम, मध्य और पूर्वी हिस्सों में न्यूनतम तापमान में गिरावट का क्रम बना रहेगा. दिल्ली से लेकर, लखनऊ, प्रयागराज, पटना और कोलकाता तक सर्दी बढ़ने की संभावना है. कोंकण गोवा, मध्य महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश जारी रहने के आसार हैं. 

देश के बाकी सभी हिस्सों में मौसम मुख्यतः साफ और शुष्क रहेगा. उत्तर-पश्चिम दिशा से लगातार चल रही मध्यम गति की शुष्क और ठंडी हवाओं के कारण राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर में वायु प्रदूषण न्यूनतम स्तर पर रहेगा.

English Summary: Weather Forecast: Freezing records in many states, minimum mercury reached 4.1 degrees

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News