Weather

मौसम अलर्ट : इन राज्यों में 2 और 3 मई को 'फैनी' तूफान मचा सकता है तबाही !

मौसम और वक्त इन दोनों पर कभी भी भरोसा नहीं करनी चाहिए, क्योंकि ये दोनों ही मौका पाते ही बदल जाया करते है. बीते कुछ दिनों में मौसम में तीव्र गति से परिवर्तन हुआ है. जहां देश के कुछ हिस्सों में तेज धूप होने के वजह से गर्मी और उमस इनदिनों उफान पर है. तो वहीं कुछ हिस्सों में  मौसम अपना कहर बरपा रहा है. अगर ये कहें कि बदलते मौसम ने आम आदमी और किसानों को परेशान कर रखा है, तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी. मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश में 2 से 3 मई लिए 'फैनी' तूफान के लिए चेतावनी जारी किया है. फैनी तूफान तीव्र गति से ओडिशा के तटीय इलाकों की तरफ बढ़ रहा है. ये न सिर्फ ओडिशा के लिए बल्कि उत्तर प्रदेश के लिए भी खतरनाक साबित हो सकता है. उत्तर प्रदेश के कन्नौज सहित कई जिलों में हल्की से मध्यम वर्षा के साथ पूर्वी हवाएं 30 से 40 किलाेमीटर चलने की अत्यधिक आशंका जताई गई है.

गौरतलब है कि किसानों और भंडार गृहों को लेकर मौसम विभाग की तरफ से जारी चेतावनी में कहा गया है नमी व तेज हवा से फसल के होने वाले नुकसान से बचाने के लिए कटी फसल, खुले में रखे अनाज एवं खेतों में तैयार खड़ी फसल को काटकर सुरक्षित रखने की समुचित व्यवस्था कर लें. गत चार दिनों से अधिकतम तापमान 40 डिग्री से ऊपर चल रहा है.ऐसे में मौसम की खबर किसानों के लिए अत्यंत जरुरी हो जाता है ताकि वो मौसम के मुताबिक अपने फसलों की देखभाल कर सकें. तो आइए जानते है मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक अगले 24 घंटों में कैसा रहेगा पूरे देश में मौसम का हाल -

देश भर में बने मौसमी सिस्टम

बंगाल की खाड़ी में उठा तूफान अब और प्रभावी होते हुए भयंकर रूप ले चुका है और उत्तर-पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ रहा है. 1 मई को यह बंगाल की खाड़ी के पश्चिम-मध्य पर पहुँच गया था . उधर असम और इससे सटे भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है. उत्तर भारत में बना पश्चिमी विक्षोभ आगे बढ़ते हुए पूर्वी जम्मू कश्मीर पर पहुँच गया है. इसके कारण उत्तर-पश्चिमी राजस्थान पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है. इस सिस्टम से मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और कर्नाटक होते हुए मध्य अरब सागर तक एक ट्रफ रेखा सक्रिय है.

बीते 24 घंटों की मौसमी गतिविधियां

बीते 24 घंटों में पूर्वोत्तर राज्यों में मध्यम से भारी और एक-दो स्थानों पर मूसलाधार बारिश देखने मिली है. अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह, सिक्किम और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल में मध्यम से भारी बारिश हुई है. इसके अलावा झारखंड और पश्चिम बंगाल में बारिश की हल्की से मध्यम बारिश देखने को मिली है. बारिश की गतिविधियां उत्तर भारत में जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, और उत्तराखंड के अलावा पंजाब और हरियाणा के उत्तरी भागों में भी देखने को मिलीं.

इन भागों में छिटपुट बारिश हुई. दूसरी ओर राजस्थान, पश्चिमी मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के तापमान में 2 से 3 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई.

अगले 24 घंटों की मौसमी गतिविधियां

अगले 24 घंटों के दौरान उत्तरी-तटीय आंध्र प्रदेश और तटीय ओड़ीशा में मूसलाधार बारिश शुरू हो जाएगी. पूर्वोत्तर राज्यों और अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में भी मूसलाधार बारिश की संभावना है. इसके अलावा पश्चिम बंगाल, केरल और तमिलनाडु में भी तूफान फ़ानी बारिश देगा. जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के भागों में छिटपुट बारिश जारी रहने के आसार हैं. जबकि देश के बाकी अधिकांश भागों में लू जैसे हालात बने रहने की आशंका है. मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के कुछ इलाकों में तापमान में बढ़ोत्तरी देखने को मिल सकती है.

साभार: skymetweather.com



Share your comments