Weather

मौसम पूर्वानुमान : इन राज्यों में आज होगी मूसलाधार बारिश !

इनदिनों जहां देश के कुछ हिस्सों में तेज धूप होने के वजह से गर्मी और उमस उफान पर है. वही कुछ हिस्सों में मौसम लोगों पर अपना कहर बरपा रहा है और मूसलाधार बारिश हो रही है. मौसम के इस कहर से सबसे ज्यादा परेशान किसान है, क्योंकि इनदिनों धान की अगेती खेती करने के लिए कुछ किसान धान की नर्सरी तैयार करने में लगे हुए है. ऐसे में मौसम की मार इसको काफी प्रभावित कर रही है.गौरतलब है कि सभी कृषि कार्यों में मौसम अहम भूमिका निभाता है और वो काफी हद तक  फसल को प्रभावित भी करता है. ऐसे में आइए जानते है मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक अगले 24 घंटों में कैसा रहेगा देशभर  में मौसम का हाल -

देश भर में बने मौसमी सिस्टम

चक्रवात 'फानी' अब उत्तर से उत्तर-पूर्व दिशा में तेजी से बढ़ रहा है. यह विशाखापत्तनम से लगभग 200 किमी दक्षिण-पूर्व और पुरी से 400 किमी दक्षिण-दक्षिण-पश्चिम दिशा में है. उत्तरी जम्मू-कश्मीर के भागों पर एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है. इस मौसमी सिस्टम के प्रभाव से उत्तर-पूर्वी राजस्थान और इससे सटे भागों पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है. दक्षिणी उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश और दक्षिणी छत्तीसगढ़ से लेकर चक्रवात फानी तक एक ट्रफ रेखा का विस्तार हो रहा है. दूसरा चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मध्य असम के भागों पर बना हुआ है.

बीते 24 घंटों की मौसमी गतिविधियां

बीते 24 घंटों के दौरान असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश देखने को मिली है. अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह, सिक्किम और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल में मध्यम से भारी बारिश हुई है. सिक्किम, पश्चिम बंगाल, केरल, तटीय आंध्र प्रदेश, तटीय ओडिशा के अलावा बिहार, झारखंड और छत्तीसगढ़ में हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड हुई है. इसके अलावा बारिश की गतिविधियां उत्तर भारत में जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, और उत्तराखंड के अलावा उत्तर प्रदेश के निचली हिस्सों में भी देखने को मिलीं. उत्तरी राजस्थान, तेलंगन और तटीय कर्नाटक के अलग-अलग जगहों पर छिटपुट वर्षा दर्ज हुई.

अगले 24 घंटों की मौसमी गतिविधियां

अगले 24 घंटों के दौरान चक्रवाती तूफ़ान फानी पश्चिमी और उत्तर-पश्चिमी दिशा से चलेंगी. जो कि 3 मई को दोपहर में पुरी के आसपास गोपालपुर और चंदबली के बीच ओडिशा तट को प्रभावित करेगा. इन इलाकों में हवा की अधिकतम गति 170-180 किमी प्रति घंटे से 200 किमी प्रति घंटे तक होने की आशंका है. इस सिस्टम के प्रभाव से आंध्र प्रदेश और ओडिशा के उत्तरी तटीय भागों पर भारी से मूसलाधार वर्षा की संभावना है. सिक्किम, उप-हिमालय पश्चिम बंगाल, असम और मेघालय के हिस्सों में भी फानी का असर माध्यम से भारी बारीश के रूप में दिखेगा. उत्तर-पूर्वी भारत के बाकी जगहों जैसे बिहार, झारखण्ड और उत्तर-प्रदेश के निचले हिस्सों सहित अंडमान-निकोबार द्वीप समूह के अलग-अलग जगहों पर भी बारिश की संभावना है. इसके अलावा जम्मू-कश्मीर,हिमाचल प्रदेश और केरल में भी छिटपुट बारिश देखी जा सकती है.

साभार: skymetweather.com



Share your comments