Weather

जानिये मौसम का पूर्वानुमान, क्या होने वाला है अगले दो दिनों में

raining

देश के कई राज्यों में मानसून अपनी दस्तक दे चुका है और कुछ राज्यों में मानसून का दस्तक देना अभी बाकी है. चक्रवात वायु की वजह से मौसमी सिस्टम में हुए बदलाव के कारण पिछले कई दिनों से अलग-अलग राज्यों में तेज हवा और गरज के साथ  बारिश जारी है.जिससे कई  जगहों पर भीषण गर्मी से राहत मिली है. पिछले दो दिनों में कई राज्यों में कही हल्की तो कही भारी बारिश हुई है. कुछ हिस्सो में बारिश के बाद फिर से गर्मी बढ़नी शुरू हो गयी है. खासकर उत्तर भारत में फिर से मौसम ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है.

cyclone

कैसा मौसम रहा पिछले दो दिनों में :

बीतें दो दिनों में जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और अंडमान-निकोबार द्वीप समूह और दक्षिण-पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इलाकों में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश की देखने को मिली हैं. वही पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, गुजरात, कोंकण-गोवा, तटीय कर्नाटक, केरल, तटीय आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, पूर्वी मध्य प्रदेश, झारखंड, असम और मेघालय में छिटपुट स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई है. विदर्भ, राजस्थान, तेलंगाना, मराठवाड़ा और आंतरिक तमिलनाडु में भी हल्की बारिश हुई है.उत्तरी पहाड़ी इलाकों और उत्तरी मैदानी भागों के तापमान में 4 से 5 डिग्री की कमी देखने को मिली है

अगले 24  घंटो में कैसा रहेगा मौसम :

यदि अगले 24 घंटो की बात करें तो देश के राज्यों के ऊपर चक्रवाती हवाओं का दबाव बना हुआ है, मौसम का हाल बताने वाली एजेंसी स्काईमेट वेदर के अनुसार गुजरात के कच्छ क्षेत्र पर एक चिन्हित निम्न दाब का क्षेत्र बना हुआ है. स्काईमेट वेदर के अनुसार आने वाले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर भारत में हल्की से मध्यम बारिश होने के आसार हैं. वहीं मणिपुर और मिज़ोरम एक-दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है.कोंकण-गोवा समेत तटीय कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, दक्षिणी ओडिशा, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में हल्की से मध्यम बारिश तथा कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी देखने को मिल सकती है.इसके अलावा राजस्थान, पश्चिमी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और रॉयलसीमा में भी छिटपुट बारिश होने के आसार हैं. वहीं तेलंगाना, विदर्भ, गुजरात, समेत उत्तरी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में एक-दो स्थानो पर बारिश होने की उम्मीद है.  स्काईमेट वेदर के अनुसार पूर्वी बिहार में भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है. इसकी वजह से पूर्वोत्तर भारत में भी तेज हवा और गरज के साथ बारिश का अनुमान है. ओडिशा में भी भारी बारिश की संभावना बनी हुई है.

 

heavy rain

इन राज्यों में बन रहा है चक्रवात

जम्मू-कश्मीर पर बन रहे  पश्चिमी विक्षोभ और इस सिस्टम से मध्य पाकिस्तान पर बने चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र की वजह से उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में भी बारिश होने का अनुमान है. जिससे की पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी धूल भरी आंधी के साथ बारिश होने का अनुमान है.



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in