1. विविध

सीएम बनते ही येदियुरप्पा ने किया किसानों को ख़ुश, एक लाख रुपए तक कृषि ऋण माफ करने का ऐलान

कर्नाटक में लंबे चुनावी हलचल के बाद विधानसभा चुनाव का अंत हुआ। भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करते हुए राज्य में सबसे ज्यादा सीट जीता। हालांकि चुनाव में किसी भी राजनीतिक पार्टी को भी पूर्ण बहूमत नहीं मिला। 15 मई को परिणाम घोषित होने के बाद सभी पार्टीयों में सरकार बनाने की जद्दोदहद तेज़ हो गई। लेकिन भाजपा के येदियुरप्पा ने सरकार बनाने का दावा करते हुए मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

शपथ लेने के साथ ही मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने किसानों की कर्जमाफी का ऐलान किया। हालांकि इस संबंध में एक-दो दिन में औपचारिक घोषणा की जाएगी। येदियुरप्पा ने चुनाव के वक्त किसानों के लिए कई तरह की योजनाएं और लाभ देने का वादा किया था। और शय़ायद इसको किसानों के हित में देखा दा सकता है। शायद इस बात का अनुमान येदियुरप्पा को भी है की राज्य में भाजपा की जीत में किसानों की अहम भूमिका रही है।

राज्य में कुल 222 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा 104 सीटें जीतने में कामयाब हुई है। वहीं राज्य में चुनाव लड़ रही कांग्रेस को 78 सीटें और जेडीएस को 37 सीटें मिली हैं। बाकी की 3 सीटें अन्य के खाते में गई हैं। समीकरण की बात करें तो अनुमानित आंकड़ों के अनुसार भाजपा को जिताने में किसानों की अहम भूमिका रही। वहीं जातिय समिकरण की बात करें तो राज्य में ओबीसी, दलित और लिंगायत ने भाजपा का पूरजोर साथ दिया।

येदियुरप्पा ने आज सुबह अकेले ही मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। भाजपा को 104 सीटे मिली हैं । भाजपा को उम्मीद है कि 222 विधायकों के सदन में वह अपना बहुमत सिद्ध कर देगी।

English Summary: Yeddyurappa made the announcement to forgive farmers for a million rupees

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News