1. विविध

'जानिए ! दुनिया कैसे मनाती है नया साल

Happy New Year 2021

दुनिया भर में नए साल के स्वागत की तैयारियां की जा रही हैं. इसके लिए पहले से ही प्लान बना लिए जाते हैं. जो लोग प्लान नहीं बना पाए हैं वो अपने घर में रहकर ही जश्न मनाएंगे. होटल, क्लब, पार्क, रेस्त्रां और अन्य सार्वजानिक जगहों पर सबसे ज्यादा धूम रहती है. कई स्थानों पर नए साल की तैयारियां क्रिसमस से ही शुरू कर दी जाती हैं. दुनिया में नए साल का जश्न अलग-अलग अंदाज में मनाया जाता है.

यूरोप से अमेरिका और चीन से भारत, जापान से अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया से ब्राजील, नया साल मनाने का तरीका एक-दूसरे से बिल्कुल जुदा है. आज हम दुनिया में नए साल के होने वाले अलग-अलग जश्न के बारे में जानेंगे.

भारत

भारत में एक जनवरी को सार्वजानिक रूप से नया साल मनाया जाता है. हालाँकि यहाँ नए साल का जश्न कई अलग-अलग तिथियों में होता है. रोंगाली बिहू इनमें सबसे लोकप्रिय है: यह हिंदू सौर कैलेंडर के पहले दिन (अप्रैल के मध्य में) मनाया जाता है. लेकिन उत्सव के विशिष्ट दिन क्षेत्र से क्षेत्र में बदलते हैं.

इंग्लैंड

ब्रिटेन में नए साल को लेकर बहुत ही अनोखा चलन है. नए साल में सौभाग्य और शुभ संकेत के लिए यहाँ के लोग चाहते हैं कि उनके मुख्य दरवाजे से प्रवेश करने वाला पहला मेहमान एक युवा हो. इसलिए यहाँ काले बालों वाला शख्स, ब्रेड(संपूर्णता), नमक(धनवान होना) और कोयला (गर्म) को प्रतिक के तौर पर पहनकर घर में आता है.

जापान

जापान में नए साल को प्रकृति का आदर करने के रूप में माना जाता है. यहाँ नए साल को 'ओशोगत्सू' कहा जाता है. यह त्यौहार पूरे परिवार के साथ मनाया जाता है. इस मौके पर पूरे घर को एक साथ साफ करके सजाता जाता है. साथ ही देवदार की शाखाओं, बेर के फूल और बांस जैसी प्राकृतिक सजावट नए साल के जश्न की तैयारी में विशेष भूमिका निभाती है.

डेनमार्क

इस देश में नए साल का जश्न अपने आप में खास है. इस दिन रिश्तों को खासी तवज्जो दी जाती है. इस दिन भाईचारा और मित्रता का जश्न मनाया जाता है. मित्रता के संकेत के रूप में, यहाँ लोग अपने पुराने व्यंजनों को तोड़ने के लिए एक-दूसरे के घरों के मुख्य दरवाजों पर रखते है. घर के निवासी इन टूटे हुए व्यंजनों से यह बताते हैं कि कौन शख्स उनका सबसे अच्छा दोस्त है.

चीन

चीन दुनिया की सबसे पुराणी सभ्यताओं में से एक है. यहाँ की परंपरा और संस्कृति हमेशा से ही अनूठी रही है. यहाँ लोग नए साल की ख़ुशी और शुभकामनाओं का प्रतीक के रूप में चीनी लोग अपने घर के दरवाजे को लाल रंग से रंगते हैं. इसके साथ ही नव वर्ष की पूर्व संध्या पर चीन में बच्चों के लिए लाल पैकेट में पैसे, विवाहित जोड़ों के लिए लाल रैकेट, और लाल रंग के लालटेन तोहफे के रूप में देने की रवायत है.

दक्षिण अफ्रीका

दक्षिण अफ्रीका में लोग स्वास्थ्य के प्रति बहुत सजग रहते हैं. यहाँ स्वस्थ रहने को प्राथमिकता दी जाती है. नए साल के अवसर पर भी यहाँ इस मुद्दे को काफी तवज्जो दी जाती है. दक्षिण अफ्रीकी (विशेष रूप से जोहानसबर्ग के हिलब्रो के आसपास के बाशिंदे) नए साल के स्वागत के लिए सफाई करके घर को पूरी तरह से नए रूप में बदल देते हैं. यहाँ पुरानी इमारतों और उपकरणों (थिंक फ्रिज!) को ऊंची इमारतों की खिड़कियों से फेंकने की मान्यता है. कहा जाता है कि ऐसे करने से नए साल को उज्ज्वल बनाने में मदद मिलती है.

ब्राजील

ब्राजील कृषि प्रधान देश है. दुनिया के शीर्ष खाद्यान उत्पादक देशों में ब्राजील का नाम शुमार किया जाता है. यहाँ तक कि नए साल में भी यहाँ कृषि उत्पादों को विशेष महत्व दिया जाता है. ब्राजील में नए साल के जश्न के लिए दालें(मसूर की दाल) 'आलिमोस डो दीया' का खास प्रचलन है. इसकी फालियाँ कई व्यंजनों में इस्तेमाल  की जाती हैं. नए साल में धन की आमद के लिए इसकी फलियों को सूप के साथ सेवन किया जाता है. इसके अलावा यहाँ आधी रात से पहले, सात किशमिश खाने मान्यता है.

फ्रांस

फ्रांस दुनियाभर में अपनी खूबसूरती और ताकतवर देश के रूप में पहचान रखता है. विश्व के सबसे बेहतरीन पर्यटन स्थलों में फ्रांस का नाम सबसे ऊपर रहता है. फ्रांसीसी लजीज भोजन की वरीयताओं के तौर पर भी मशहूर हैं. यहाँ नए साल की पूर्व संध्या पर, 'ले रेविलियन डी ला सेंट-सिल्वेस्ट्रे के रूप में बड़े पैमाने पर पिया जाता है. फ़ॉसी ग्रोस, हंस या टर्की, सीप, और शैंपेन नए साल की पार्टियों में निश्चित तौर से परोसी जाती है. इसके अलावा सबसे महंगी फ्लाइट के किराए को आने वाले साल में धन का प्रतीक माना जाता है.

स्विट्जरलैंड

स्विट्जरलैंड दुनिया के सबसे अमीर देशों में शामिल है. हर साल दुनिया भर से लाखों लोग यहाँ घूमने आते हैं. नया साल मनाने के लिए भी बड़ी संख्या में सैलानी यहाँ जमा होते हैं. यहाँ के स्थानीय लोग नए साल पर एक अजीब सांस्कृतिक परंपरा को निभाते हैं. दरअसल, स्विस नए साल पर मिलने वाले व्यंजन को नहीं खाते हैं. इसके बजाय, वे फर्श पर व्हिप्ड क्रीम गिराते हैं और उसे वहीं छोड़ देते हैं. जाहिर है, इसका अर्थ आने वाले वर्ष में समृद्धि से है.

English Summary: 'Learn ! How the world celebrates new year

Like this article?

Hey! I am रोहिताश चौधरी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News