1. विविध

विश्व का सबसे विचित्र मंदिर, जहां देवताओं की नहीं किसान की होती है पूजा

वैसे तो अन्नदाता किसान किसी भी भगवान से कम नहीं और इस बात को हम बिना मतभेद के स्वीकर भी कर लेते हैं. लेकिन अगर हम कहें कि विश्व में एक जगह ऐसी भी है जहां लोग ना सिर्फ किसान को भगवान मानते हैं बल्कि पूजा अर्चना भी करते हैं, तो क्या आप विश्वास करेंगे? दिलचस्प बात यह है कि विश्व का वो मंदिर कहीं और नहीं, बल्कि भारत में ही है, जहां किसान देवता की पूजा-अर्चना के साथ-साथ आरती, दोहे, चौपाई एवं चालिसा भी गाई जाती है.

अब सबसे अच्छी बात तो यह है कि सिर्फ हिंदूओं का नहीं है, बल्कि यहां सभी धर्मों के लोग निष्काम भाव से आते हैं. हर दिन सुबह 8 से शाम 6 बजे तक खुलने वाले इस मंदिर में रोगियों का निशुल्क ईलाज़ होता है, बैठक, चर्चाएं एवं चौपालें सजती हैं. जहां किसान अपने फसलों खेतों एवं अन्य तरह की कष्टों पर बात करते हैं. स्थानीय निवासी यह मानते हैं कि अच्छी पैदावार एवं बंपर कमाई अगर करनी हो, तो एक बार यहां जरूर आना चाहिए. मात्र इसलिए नहीं कि उन्हें इस मंदिर में श्रध्दा है बल्कि इसलिए भी क्योंकि यहां बड़े-बड़े खेती के विशेषज्ञ आते हैं.

गौरतलब है कि यूपी के प्रतापगढ़ जिले में इस मंदिर का निर्माण योगिराज महाराज ने करवाया है और यहां सरकार एवं कृषि विभाग के लोग अक्सर किसानों को उपज बढा़ने, कीटों से बचाने एवं मिट्टी को उपजाऊ बनाने की विधि सिखाते रहते हैं. इसी का नतीज़ां है कि यहां दूर-दूर के जिलों से किसान दर्शन के लिए आते हैं.

स्थानीय निवासियों की माने तो एक किसान कभी नहीं चाहता कि कोई इंसान भूखा रहे और इसलिए इस मंदिर में सप्ताह के प्रत्येक सोमवार को भंडारा करवाया जाता है. भंडारे की रक्म भी आपसी सहयोग से जमा की जाती है. मान्यता है कि इस भड़ारे में भोजन करने से खेती में बरकत होती है एवं अच्छी आय की प्राप्ती होती है.

 

English Summary: here people worship lord farmer temple

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News