Others

किसान ने अपने बेटे के लिए बनाया अनोखा स्कूल बैग, पूरी दुनिया हुई कायल

फोटो सोर्स: फेसबुक

आज के दौर में कॉपी-किताब से भी अधिक प्रिय बच्चों को उनका स्कूल बैग हो गया है. इस बात को समझने में बड़ी कंपनियां कामयाब रही हैं. यही कारण है कि वो इस तरह के बैग्स तैयार कर रही हैं जिस पर सुपर हीरो की फोटो हो. इन बैग्स की कीमत हजारों में है. इस तरह के बैग बच्चों को शिक्षा की तरफ आकर्षित करने में सहायक हैं लेकिन समाज का एक ऐसा वर्ग भी है, जो इस बैग को खरीदने में सक्षम नहीं है.

किसान द्वारा बनाए गए बैग पर कुछ इस तरह की प्रतिक्रियाएं आई.

बच्चे की जिद्द, पिता का वात्सल्य
कम्बोडिया के 5 वर्षीय एनवाई केंग को भी अन्य बच्चों की तरह स्कूल बैग्स का खूब शौक था. अन्य बच्चों की तरह स्कूल बैग्स पर छपने वाले कार्टून करेक्टर्स उसे भी प्यारे थे लेकिन उस मासूम को यह नहीं पता था कि आकर्षक दिखने वाले ऐसे स्कूल बैग्स महंगे भी होते हैं. बिना कुछ सोचे उस नादान ने अपने गरीब किसान पिता से रंग-बिरंगे आकर्षक स्कूल बैग्स की मांग की. घर के लोग इस बात को लेकर चिंता में पड़ गए कि इतना महंगा बैग कैसे खरीद पाएंगे लेकिन पिता ने तरकीब निकाल ली.

पिता ने ऐसे पूरी की बच्चे की मांग
बच्चे की मांग को देखते हुए पहले तो किसान पिता ने बचत के पैसों से बैग खरीदने का फैसला किया लेकिन जब जेब ने साथ नहीं दिया तो मोर्चा खुद संभाल लिया. किसान ने खुद अपने हाथों से राफिया स्ट्रिंग की मदद से बैग बनाया. इस बैग ने 5 वर्षीय एनवाई केंग को स्कूल में हीरो बना दिया. वो अपने सभी सहपाठियों के बीच पसंद किया जाने लगा.

फोटो सोर्स: एनबीटी

दुनियाभर से मिल रही है सरहाना
किसान द्वारा बनाए इस बैग को दुनियाभर से सराहना मिल रही है. लोग इस बैग की बहुत तारीफ़ कर रहे हैं. कई स्कूल बैग निर्माता कंपनियां भी बैग्स के डिज़ाइन से प्रभावित हुई हैं.

 



English Summary: farmer make school bag for his son goes viral on social media

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in