कृषि विकास के लिए 1100 करोड़ रूपये देगा वर्ल्ड बैंक..

देश के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए, कृषि अनुसंधान और इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवेलपमेंट पर वर्ल्ड बैंक 1100 करोड़ रूपये खर्च करेगा. बता दें यह राशि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद की देखरेख में 30 कृषि विश्वविद्यालयों को दी जाएगी. परिषद् ने इसके लिए सभी कृषि विश्वविद्यालय से प्रोजेक्ट मांगे हैं.

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के सूत्रों के अनुसार वर्ल्ड बैंक भारत को नेशनल एग्रीकल्चर हायर एजुकेशन प्रोग्राम के तहत 1100 करोड़ रूपये की सहायता देगा. यह राशि तीन तरह के प्रोजेक्ट पर खर्च की जाएगी. सभी कृषि विश्वविद्यालय ने संस्थागत विकास, अनुसंधान और नवाचार के प्रोजेक्ट तैयार करके भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद को भिजवा दिया है.

इनको लेकर चयन की प्रक्रिया चल रही है. जिनके प्रोजेक्ट का चयन किया जाएगा उन्हें तत्काल राशि जरी कर दी जाएगी. किसी भी एक तरह के चयनियत होने वाले कृषि विश्वविद्यालय को दूसरी तरह के प्रोजेक्ट में शामिल नहीं किया जाएगा.

संस्थागत विकास के लिए 10 विश्वविद्यालयों को उनके प्रोजेक्ट मंजूर होते ही 35-35 करोड़ रूपये की सहायत की जाएगी. अनुसंधान के क्षेत्र में जिन 10 विश्वविद्यालयों के प्रोजेक्ट चयनित हुए हैं उन्हें 25-25 करोड़ की राशि मिलेगी. नवाचार के क्षेत्र में जिन विश्वविद्यालयों के प्रोजेक्ट्स का चयन होंगा उन्हें 5-5 करोड़ की राशि मिलेगी.

Comments