1. ख़बरें

लॉकडाउन में किसानों को छूट मिलने के बावजूद पुलिस क्यों इनपर लगा रही काम करने की रोक?

लॉकडाउन के चलते सभी राज्यों की सीमाएं सील हैं. इसमें हरियाणा बॉडर भी शामिल है. कल (मंगलवार) उत्तर प्रदेश के मवी गांव के किसान अपने खेत में फसल कटाई के लिए जा रहे थे तो उन्हें हरियाणा पुलिस ने वापस लौटा दिया. बता दें, मवी गांव के लोग यमुना नदी का पुल पार करके, अपनी भूमि पर खेती करते हैं.  मवी गांव उत्तर प्रदेश में पड़ता है और उन किसानों की जमीन यमुना नदी के उस पार हरियाणा में है. यही कारण है जो हरियाणा पुलिस  उत्तर प्रदेश के किसानों को खेत में जाने से रोक रही थी. हालांकि बाद में सीओ ने हरियाणा पुलिस से बात करके समस्या का समाधान निकाला.

मवी गांव (काकौर ) के किसान हनीफ, सुभाष, जिला, नरेश, करण सिंह, विमल, बालूराम, सतेन्द्र व मित्रसैन आदि की जमीन यमुना नदी के दूसरे किनारे  हरियाणा के गांव रीशपुर में  हैं.  किसानों ने  अपनी इसी जमीन  पर गेहूं और प्लेज की फसल लगा रखी है. किसानों ने हरियाणा में फसल पर कार्य  हेतु ग्राम प्रधान से परमिशन ले रखी है.

मंगलवार को जैसे ही मवी गांव के किसान यमुना पुल पार करके हरियाणा में खेती करने जा रहे थे तो उन्हें हरियाणा पुलिस ने खेतों में काम करने से मना कर दिया. अपने गांव वापस आकर किसानों ने सीओ प्रदीप सिंह से अपनी समस्या को बताया जिसके बाद सीओ ने हरियाणा पुलिस से बात की.

प्रदीप सिंह  ने बताया कि हरियाणा पुलिस यमुना पुल चौकी इंचार्ज से परमिशन लेकर किसानों की इस समस्या को समाधान करेगी. प्रदीप सिंह ने मवी गांव के किसानों को आश्वासन दिया कि एक घन्टे में पुलिस गांव में जाकर सत्यापन करेगी.

English Summary: Why is police preventing farmers from working even after they are exempted from the lock-down?

Like this article?

Hey! I am प्रभाकर मिश्र. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News