News

क्या किसानों के लिए हितकारी है दिल्ली में केजरीवाल की वापसी?

दिल्ली विधानसभा चुनाव के परिणाम आम आदमी पार्टी के पक्ष में आ गया है. अब चुनाव के परिणाम कुछ भी हों, लेकिन एक बार फिर अरविंद केजरीवाल का मुख्यमंत्री बनना निश्चित हो गया है. कांग्रेस को बुरी तरह पटखनी देने के साथ ही आम आदमी पार्टी ने बीजेपी को भी निरुत्तर कर दिया है. चलिए आपको बताते हैं कि दिल्ली में केजरीवाल की सरकार बनने के साथ ही किसानों को किस तरह के फ़ायदे होंगे.

दिल्ली से होकर गुजरती है किसानों की खुशहाली
किसानों और ग्रामीण भारत के लिए बनने वाली हर तरह की योजनाओं, परियोजनाओं और नियमों का निर्माण (केंद्र स्तर पर) दिल्ली में ही होता है. यह भी सत्य है कि अपनी तमाम निराशाओं, विरोधों और प्रदर्शन के लिए किसान दिल्ली की तरफ ही कूच करते हैं. ऐसे में इस बात पर चर्चा करना ज़रूरी है कि अरविंद केजरीवाल के लगातार तीसरी बार के शासन में प्रदेश के किसानों को क्या-क्या मिलेगा.

आम आदमी ने लगाया नया नारा
बीजेपी के रास्तों पर चलते हुए ही आम आदमी पार्टी ने आज नया नारा लगाया है. पार्टी दफ़्तर पर पोस्टर में लिखा गया है - राष्ट्र निर्माण और राष्ट्र कल्याण के लिए आज ही ‘आप’ से जुड़ें. हालांकि माना यह जा रहा है कि आम आदमी पार्टी के राष्ट्र निर्माण की थ्योरी में गांव और किसान भी शामिल होंगे.

गांव-किसान को क्या मिलेगा
दिल्ली की अर्थवय्वस्था में किसानों और गांवों का बड़ा योगदान है लेकिन दु:ख इस बात का है कि विकास की बड़ी-बड़ी योजनाओं में ये गांव ही उपेक्षित हो जाते हैं. फिलहाल इस बार केजरीवाल ने किसानों के हक में भूमि अधिग्रहण कानून में संशोधन करने की घोषणा की है. वहीं सरकार ने यह भी कहा है कि फसल नुकसान पर किसानों का मुआवज़ा बंद नहीं होगा. फसलों के नुकसान पर 50 हजार प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवज़ा दिया जाएगा.

दिल्ली के हर बच्चे को विश्वस्तरीय शिक्षा देने की बात कही गई
केजरीवाल सरकार ने जहां एक तरफ ग्रमीण महिलाओं को अर्थवय्वस्था में शामिल करने के लिए तरह-तरह की योजनाओं और सेवाओं की बात कही है तो वहीं सफाई कर्मचारियों की मृत्यु जैसी दुर्घटना पर 1 करोड़ के मुआवज़े का वचन भी दिया है.



English Summary: what will farmers get if kejriwal become chief minister of delhi again

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in