News

इस किसान के 10 लाख हुए चोरी और फिर हुआ ऐसा...

कल उत्तर प्रदेश विधानसभा में अजीबो-गरीब स्थित बन गई. सदन चलने के दौरान ही एक विधायक फूट-फूट कर रोने लगे. विधानसभा में रोने वाले सदस्य, समाजवादी पार्टी (सपा) आजमगढ़ के महानगर विधान सभा से विधायक हैं. माननीय विधायक का नाम कलपनाथ पासवान है. वे अपने 10 लाख रूपयों के चोरी होने से बहुत ही दुखी हैं.

बता दें,विधायक महोदय ने विधानसभा सत्र के दौरान ही कहा कि चोरी हुए 10 लाख रूपये मेरे जीवनभर की कमाई थे जिन्हें मैंने अपना घर बनाने के लिए बैंक से निकाला था. मैंने चोरी हुए रूपयों के लिये बार-बार पुलिस से कहा लेकिन प्रदेश की पुलिस ने रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की.

सपा विधायक ने कहा कि ये रूपये मेरे जीवन-भर के खून-पसीने की कमाई थे. अगर यह न मिले तो मैं निश्चित ही मर जाऊंगा. विधायक जी रोते हुए बोले कि 'मेरे साथ न्याय हो, नहीं तो मैं जीवित नहीं रहूंगा. आज मैं अपने रुपयों के लिए रो रहा हूँ लेकिन यदि मैं न रहा तो पूरा सदन इसके बाद मेरे लिए रोयेगा'. मान्यवर मेरे साथ न्याय कीजिए, अपनी कमाई के बिना मैं कहां जाऊं. सदन में सपा विधायक कलपनाथ पासवान ने कहा- मान्यवर मैं एक गरीब और असहाय किसान हूं. मैंने अपनी पूरी जिंदगी में 10 लाख रूपये एक साथ कभी नहीं देखे हैं. मैंने 7 जनवरी को लखनऊ के एक बैंक से 10 लाख रूपये घर बनवाने के लिए निकाले थे. मैं अपने खून-पसीने की कमाई लेकर रोडवेज बस से आजमगढ़ गया. जहां मैंने शारदा चौक के एक होटल में चाय पी और जब मैं वहां से निकलने के लिए उठा तो देखा मेरे पैसे गायब थे.

उन्होंने कहा कि मैंने इसके लिए तत्काल एसपी से भी गुहार लगाई लेकिन मेरी रिपोर्ट नहीं लिखी गई. उन्होंने बताया कि जब हम चाय पीकर उठे तो हमें बैग हल्का लगा. तो मैंने बैग खोलकर देखा तो रुपये गायब थे. इस बात की जानकारी मैंने तत्काल एसपी और आईडीआईजी को दी. विधायक महोदय की दशा और बातें सुनकर पूरा सदन चकित रह गया. उसके बाद विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित ने संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना को इस मसले पर कार्यवाही करने के निर्देश भी दे दिए.



English Summary: What happened when the farmer MLA was crying in praliayment

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in