MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

Khaad Quality: DAP की जगह इन खादों का करें प्रयोग, होगी अच्छी पैदावार, बढ़ेगी गुणवत्ता

DAP खाद के बढ़ते दामों से परेशान किसानों के लिए एक अच्छी खबर है. बता दें हाल ही में इंदिरा गाँधी कृषि विद्यालय के वैज्ञानिकों ने डीएपी खाद का विकल्प हेतु अन्य खाद के इस्तेमाल की जानकारी दी है.

स्वाति राव
DAP
DAP

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगातार DAP (डी.ए.पी.) के बढ़ते दामों की वजह से देश में इसकी खपत काफी हद तक कम हुई है. इस कमी की वजह से किसानों को समय पर आवश्यकता अनुसार DAP खाद उपलब्ध नहीं हो पा रहा है, जिसके चलते उन्हें अपने फसल से नुकसान झेलना पड़ रहा है.

किसानों के सामने DAP खाद को लेकर हो रही समस्या से उभरने के लिए, हाल ही में इंदिरा गांधी कृषि विश्व विद्यालय रायपुर के कृषि वैज्ञानिकों ने खरीफ और रबी वर्ष 2022-23 में वैकल्पिक उर्वरकों का उपयोग करने की सलाह दी है. रिपोर्ट के अनुसार वैज्ञानिकों का कहना है कि किसान फसल की अच्छी उपज के लिए डीएपी के बदले अन्य उर्वरकों का इस्तेमाल कर सकते हैं. इससे फसल की पैदावार और गुणवत्ता दोनों में सुधार हो सकता है.

धान एवं मक्का में DAP की जगह इन खादों करें प्रयोग

धान एवं मक्का की फसलों में DAP के बदले इन खादों का प्रयोग कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं:

  • नाइट्रोजन 40, फास्फोरस 24, पोटाश 16 किग्रा. प्रति एकड़ मात्रा आपूर्ति के लिए + यूरिया एक बोरी (50 किग्रा.).

  • नाइट्रोजन 20, फास्फोरस 20, पोटाश 13 + यूरिया दो बोरी (100 किग्रा.)

  • नाइट्रोजन 12, फास्फोरस 32, पोटाश 16 (एन.पी.के दो बोरी), यूरिया की दो बोरी 100 किग्रा., सिंगल सुपर फास्फेट (50 किग्रा.) सिंगल सुपर फास्फेट तीन बोरी (150 किग्रा.), पोटाश 27 किग्रा.. का उपयोग कर सकते हैं.

  • इसके अलावा वर्मी कम्पोस्ट कम से कम एक क्विंटल प्रति एकड़ की दर से उपयोग करें.

इसे पढ़िए - Khaad Price 2022: खाद के बढ़ते दामों ने दिया किसानों को झटका, यहां जानिए सरकारी आकड़े और सही इस्तेमाल

दलहनी फसलों के लिए

दलहनी फसलों के लिए अनुशंसित पोषक तत्व इस प्रकार है-

  • नाइट्रोजन 8, फास्फोरस 20, पोटाश 8 किग्रा. प्रति एकड़ मात्रा की आपूर्ति के लिए यूरिया 18 किग्रा., पोटाश 14 किग्रा., सिंगल सुपर फास्फेट ढाई बोरी 125 कि. ग्रा.की एवं यूरिया पांच किग्रा.

  • नाइट्रोजन 12, फास्फोरस 32, पोटाश 16 किग्रा.. + यूरिया की एक बोरी 50 किग्रा.की, सिंगल सुपर फास्फेट 25 किग्रा. के साथ ही वर्मी कंपोस्ट कम से कम एक क्विंटल प्रति एकड़ की दर से उपयोग करें.

तिलहनी फसलों के लिए

तिलहनी फसलों में अनुशंसित पोषक तत्व इस प्रकार है-

प्रति एकड़ के लिए नाइट्रोजन 8, फास्फोरस 20, पोटाश 8 किग्रा. + यूरिया 17 किलोग्राम + सिंगल सुपर फास्फेट (125 किग्रा.) के साथ वर्मी कम्पोस्ट कम से कम एक क्विंटल प्रति एकड़ की दर से उपयोग करें.

गन्ने की फसल के लिए

गन्ने की फसल के लिए अनुशंसित पोषक तत्व इस प्रकार हैं-

प्रति एकड़ के लिए नाइट्रोजन 120, फास्फोरस 32, पोटाश 24) किग्रा. + यूरिया पांच बोरी 5 बोरी (250 किग्रा. की + सिंगल सुपर फास्फेट चार बोरी (200 किग्रा.) का उपयोग कर सकते हैं.

English Summary: Use these fertilizers instead of DAP for good yield and quality of crop Published on: 13 May 2022, 04:37 PM IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News