News

महाराष्ट्र के किसानों के लिए खुशखबरी, सरकार करेगी पूरा कर्ज माफ

महाराष्ट्र में नई सरकार का गठन हो गया है. राज्य के नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बन चुके हैं. नए मुख्यमंत्री ने राज्य की कमान अपने हाथ आते ही सबसे पहले किसानों के लिए राहत भारी खबर सुनाई है. सरकार ने किसानों के हित के लिए कई अहम कदम उठाए है. सरकार ने वादा किया है कि उनकी सरकार किसानों की हालात बदलने के लिए बेहतर कदम उठाएगी. आपको बता दें कि उद्धव ठाकरे ने सीएम पद की शपथ लेते हुए कहा कि महाराष्ट्र विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार किसानों का कर्ज माफ करेगी. उन्होंने वादा किया कि राज्य में किसानों की पूर्ण कर्ज माफी के साथ ही पूरे राज्य में एक रुपये के क्लीनिक खोले जाएंगे जो शुरुआती स्वास्थ्य देखभाल के केंद्र बनेंगे.

उद्धव सरकार ने वादा किया है कि किसानों के लिए नई फसल बीमा योजना लाएगी. किसानों की हर समस्या में सरकार उन्हें तुरंत राहत देने का काम करेगी. इसके अलावा सरकारी विभागों के सभी खाली पद भरे जाएंगे. सरकार ने राज्य के नागरिकों को एक रुपये में इलाज देने का वादा एजेंडे में शामिल किया है. सूखा पीड़ित किसानों का कर्ज तुरंत माफ किया जाएगा. सीएमपी में सेकुलर शब्द पर भी जोर दिया गया है, जिसको लेकर काफी चर्चा की गई थी. इसके अलावा फसल बीमा के पुनरीक्षण, किसानों को उपज का सही मूल्य दिलाने की बात कही है. तो वहीं सूखा प्रभावित इलाकों में सतत जलापूर्ति के लिये आधारभूत ढांचा विकसित करने के लिये उचित उपाय सुनिश्चित किए जाएंगे.

किसानों के लिए तोहफा

  • सरकार की ओर से किसानों को तुरंत राहत दी जाएगी.
  • ठाकरे सरकार नई फसल बीमा योजना चलाएगी.
  • किसानों को फसलों का उचित दाम दिया जाएगा.
  • सूखा पीड़ित किसानों का कर्ज माफ होगा.
  • झुग्गी-झोपड़ी में रहने वालों को 500 वर्ग फीट जमीन दी जाएगी.
  • सूखा प्रभावित क्षेत्र में पानी की सुविधा मुहैया कराई जाएगी.

एक और खास बात बता दें कि इस शपथ ग्रहण समारोह में राज्य के विभिन्न इलाकों से हजारों किसान हिस्सा लेने आए थे. जिनमें वे 400 किसान परिवार भी शामिल हैं, जिन्हें खुद उद्धव ठाकरे ने आमंत्रित किया था. बता दें कि सांगली के एक किसान परिवार को भी उद्धव ठाकरे के शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया गया है. इस किसान की बेमौसम बारिश से फसल बर्बादी हो गई थी. तब उद्धव ठाकरे ने सांगली जिले का दौरा करने किया था. इस दौरान पंढरपुर से पैदल लौट रहे संजीव सावंत (वारकरी) से उनकी मुलाकात हुई थी. उन्होंने किसान को आश्वस्त किया था कि जब शिवसेना का मुख्यमंत्री शपथ ले रहा होगा. तो उस वक्त आपको स्टेज पर जगह दी जाएगी.



Share your comments