1. ख़बरें

नहीं पड़ता हमें फर्क, इस शख्स ने कोरोना मरीज संग रचाई शादी, शामिल हुए लोग भी हुए संक्रमित

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Marriage

यूं तो खबरों की इस दुनिया में बेशुमार खबरें हमारे आंखों के सामने से होकर गुजरती है, लेकिन कुछ खबरें ऐसी होती है, जो यकीनन हमारे दिलों दिमाग पर ऐसी छाप छोड़ जाती है, जो कभी मिटाए नहीं मिटती. आज हम आपको एक ऐसी ही खबर से रूबरू कराने जा रहे हैं.

मौजूदा हालातों से तो आप भलीभांति परीचित ही होंगे कि कैसे कोरोना का कहर अपने चरम पर पहुंचकर लगों को बर्बादी के सैलाब में सराबोर करने पर आमादा हो चुका है. ऐसे में सरकार लोगों से महज खुद को महफूज रखने की इल्तिजा कर रही है. मुंह पर नकाब, हाथों में सफाई और समाज में दूरी ही जीवन जीने का सलीका बन चुकी है और जो इस सलीके से गुरेज करेगा, यकीन मानिए जिंदगी उससे हमेशा-हमेशा के लिए गुरेज करने लगेगी, लिहाजा फिलहाल तो यही मुनासिब रहेगा कि सारी मोहब्बतों को ताक पर ररखकर खुद को महफूज रखने की जुगत में लगा जाए, मगर कंबख्त इस इश्क के खुमार से भला आज तक कौन बच पाया है, जो आज बचेगा. 

 

बेशक, महामारी अपने चरम पर पहुंच जाए. दरख्तों में लहलहाते पत्ते सूख जाए. लोगों की आमद से गुलजार रहने वाली गलियां वीरान हो जाए, मगर मोहब्बत की कुव्वत कल भी वैसी ही थी और आज भी वैसे ही है. इस कथन की तस्दीक की करने वाला एक ऐसा ही ताजा मामला केरल के अलपझप्पा इलाके से सामने आया है, जहां महज 23 वर्षीय युवती की शादी तय हुई.

युवती अपनी शादियों की तैयारियों में मशगूल ही थी कि कंबख्त इस कोरोना ने एक बार फिर से सब कुछ चौपट कर रख दिया. संक्रमण के मामलों में तेजी आई, तो सरकार ने दिशानिर्देश जारी कर दिए. कुछ सीमित लोगों की मौजूदगी में ही शादियों की रस्म अदायगी की हिदायत दी गई. वहीं, अगर कोई इस हिदायत की नाफरमानी करता है, तो उसे हुकूमत के दिए जख्मों को सहने के लिए खुद तैयार कर लेना चाहिए. लेकिन केरल के अलपझफ्पा इलाके में इस 23 वर्षीय युवती ने हुकूमत की चोट से बेपरवाह होते हुए एक ऐसे शख्स से शादी रचा ली, जो खुद कोरोना की गिरफ्त में आ चुका था, जो अब जिंदगी और मौत से जूझ रहा है, लेकिन महिला ने इस बातों की परवाह किए बेगैर इस युवक से शादी रचा ली.  

हालांकि, शादी के दौरान दूल्हा दुल्हन दोनों ही पीपीई किट पहने  हुए थे, लेकिन कोरोना के कहर के आगे भला आज किसकी चल पा रही है. बाद में पता चला कि दुल्हे की मां भी संक्रमित हो गई. बहरहाल, अब बाकी के लोगों का कोरोना टेस्ट कराया जाना है, जैसे ही उनका टेस्ट होगा तो स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट हो पाएगी कि आखिर कोरोना से अब तक कितने लोग संक्रमित हुए हैं. खैर, खबरों की इस दुनिया में अभी  यह खबर खासा चर्चा में बनी हुई है, लेकिन इस बीच कोरोना का कहर कब तक खामोश होता है. इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई है.  

English Summary: This girl marrage with a corona infected boy

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News