News

स्वराज अभियान का संगठन जय किसान आंदोलन करेगा हरियाणा में स्वराज यात्रा

नई दिल्ली: आज राजधानी दिल्ली में स्वराज अभियान के संगठन जय किसान आंदोलन के द्वारा एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। कॉन्फ्रेंस का आयोजन सेंट्रल दिल्ली के एन.डी. तीवारी भवन में किया गया। कॉन्फ्रेंस को मुख्य रूप से स्वराज इंडिया पार्टी के मुखिया योगेंद्र यादव और जय किसान आंदोलन की तरफ से अविक साहा ने संबोधित किया। कान्फ्रेंस का आयोजन हरियाणा के रेवारी जिले में 1 जुलाई से 9 जुलाई तक होने जा रहे "स्वराज यात्रा" की जानकारी देने के लिए किया गया था।

योगेंद्र यादव ने कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि " पिछले एक साल से देश के पूरे किसानों के बीच बेचैनी है, गुस्सा है जिसके वजह से किसान आंदोलन और विद्रोह की राह पर हैं। पिछले साल मंदसौर में किसान आंदोलन के वक्त गोली चली और कुछ किसान मारे गए जिसके बाद देश में किसान आंदोलन ने एक नई राह पकड़ी है।" आगे उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सरकार किसानों से जुड़ी हर मोर्चे पर फेल दिखाई दे रही है। चाहे किसानों के फसलों को लेकर एमएसपी का मुद्दा हो या फीर गन्ना किसानों का। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि सरकार को भी इस बात की जानकारी है की किसानों के मुद्दे पर कुछ खास नहीं कर पा रहे हैं और वादे के अनूकुल उनको सुविधा मुहैया नहीं करवा पा रहे हैं। उनहोंने स्वराज यात्रा के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि रविवार 1 जुलाई से वो गांव गांव घुमकर संपर्क अभियान चलाया जाएगा और इसकी शुरूआत हरियाणा के रेवाड़ी जिले से किया जाएगा। आगे उन्होंने बताया की यह यात्रा 9 जुलाई तक चलेगी और इसमें लगभग 100 गावों में पदयात्रा की जाएगी।

पदयात्रा में मुख्य तौर पर चार बिंदुओं पर कार्य किया जाएगा।

योगेंद्र यादव ने कहा की पदयात्रा के दौरान मुख्य रूप से चार बिंदुओं पर कार्य किया जाएगा। और इन विषयों पर गौर करना काफी जरूरी है। और वो इस प्रकार हैं,

-किसानों को उनके फसल का उचित दाम मिले।

-मज़दूरों को पूरा काम मिले क्योंकि उनकी जमीनें ले ली गईं और उनके जमीनों पर फैक्ट्रीयां और अन्य चीजें बन गईं लेकिन उनको काम नहीं दिया गया।

-पानी का संरक्षण क्योंकि इन इलाकों इन इलाकों में पानी की कमी है और उसकी एक सुचारू व्यवस्था भी होनी चाहिए।

- इलाके में पिछले कुछ वर्षों से शराब का सेवन बढ़ा है जो वहां की महिलाओं के लिए परेशानी का एक कारण बनता जा रहा है।

जय किसान आंदोलन से जुड़ें कई राज्यों के लोग भी उपस्थित थे

कॉन्फ्रेंस के दौरान किसान आंदोलन से जुड़े अन्य राज्यों के कई लोग भी उपस्थित थे। अन्य राज्यों से आए कुछ लोगों ने अपनी राज्य से जुड़ी किसान समस्याओं पर चर्चा की। वहीं अविक साहा ने कहा कि "यह यात्रा पूरी तरह से किसानों के हित के लिए है और हमें उम्मीद है की काफी किसानों का हमें समर्थन मिलेगा।



English Summary: Swaraj Yatra will be organized by Jai Kisan Movement

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in