News

पश्चिमी यूपी की 12 चीनी मिलों पर गन्ना किसानों का 626 करोड़ रुपए बकाया, पढ़िए पूरी खबर

sugar cane

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले की चीनी मिलें एक नए पेराई सत्र की तैयारियों में जुटी हैं , लेकिन अब तक पिछले पेराई सत्र का पूरा भुगतान नहीं हुआ है. खबरों की मानें, तो पश्चिमी यूपी की करीब 12 चीनी मिलों पर जिले के किसानों के लगभग 626 करोड़ 48 लाख रुपए बकाया हैं. बताया जा रहा है कि अभी तक किसानों के खाते में करीब 52.68 प्रतिशत भुगतान ही भेजा गया है. यानी चीनी मिलों पर करीब आधा भुगतान बकाया है. अगर आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे किसानों को बकाया भुगतान मिल जाए, तो कोरोना काल उन्हें एक बड़ी राहत मिलेगा. इससे बाजार और व्यापार को भी लाभ मिल पाएगा.

भुगतान के इंतजार में किसान

खबरों की मानें, तो बागपत जिले के करीब 1 लाख 24 हजार 264 किसानों ने 12 चीनी मिलों को करीब 412 लाख क्विंटल गन्ना सप्लाई किया है. मगर अभी तक किसानों को भुगतान नहीं मिला है, जिससे उन्हें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. किसानों का कहना है कि उन्हें बकाए पर ब्याज भी मिलना चाहिए. तर हैं।

ये ख़बर भी पढ़े: बिहार के दूसरे दशरथ मांझी, जिसने 30 साल कड़ी मेहनत कर सिंचाई के लिए खोद डाली 3 किमी लंबी नहर

Sugar mill

किस चीनी मिल पर बकाया

खबरों की मानें, तो नीचे दिए गए आंकड़ों के मुताबिक चीनी मिलों पर   भुगतान बकाया है.

  • बागपत (63)

  • रमाला  (57)

  • मलकपुर(91)

  • किनौनी  (39)

  • दौराला (24)

  • नंगला मल  (47)

  • तितावी  (24)

  • खतौली  (15)

  • भैसाना (74)

  • ऊन (96)

  • ब्रजनाथपुर  (22)

  • मोदीनगर (09)

जानकारी के लिए बता दें कि ये आंकड़े लाख रुपए में और 31 अगस्त तक के हैं.

ये ख़बर भी पढ़े: जुगाड़ से बनाई कमाल की बाइक, 1 लीटर पेट्रोल में चलती है 80 किलोमीटर 



English Summary: Sugarcane farmers owe Rs 626 crore on 12 sugar mills in western UP

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in