News

राहुल गांधी का बड़ा ऐलान: सरकार बनी तो गरीबों को मिलेगा सालाना 72 हजार रुपए

लोकसभा चुनाव  2019  के मद्देनजर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को ( 25 मार्च ) प्रेस कांफ्रेंस करके देश से गरीबी मिटाने के लिए न्यूनतम आय गारंटी योजना का ऐलान किया है.उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी की सरकार बनने पर देश के हर गरीब परिवार को सालाना 72 हजार करोड़ रुपये दिए जायंगे.दरअसल पार्टी की कार्य समिति की बैठक के बाद राहुल गांधी ने रिपोर्टरों से कहा कि, 'पिछले पांच वर्षों में देश की जनता को बहुत मुश्किलें सहनी पड़ी हैं. इसलिए हमने यह निर्णय लिया और हम हिंदुस्तान के लोगों को न्याय देने जा रहे हैं. यह न्याय 'न्यूनतम आय गारंटी' है. ऐसी योजना दुनिया में कहीं नहीं है.'

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि, 'हम 12,000 रुपये महीने की आय वाले परिवारों को न्यूनतम आय गारंटी देंगे. उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस गारंटी देती है कि वह देश में 20 फीसदी सबसे गरीब परिवारों में से प्रत्येक को हर साल 72,000 रुपये देगी. यह पैसा उनके बैंक खाते में सीधा डाल दिया जाएगा.' राहुल गांधी ने कहा कि, 'अगर मोदी जी सबसे अमीर लोगों को पैसा दे सकते हैं तो कांग्रेस भी देश के सबसे गरीब लोगों को पैसा देगी.'

राहुल गांधी  ने इसे दुनिया की सबसे बड़ी न्यूनतम आय योजना करार देते हुए कहा कि 'यह गरीबी पर आखिरी हमला है. यह योजना चरणबद्ध तरीके से चलाई जाएगी. ''यह बहुत ही प्रभावशाली और सोची समझी योजना है. हमने योजना को लेकर कई अर्थशास्त्रियों से विचार विमर्श किया है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि 'पूरा आकलन कर लिया गया है, सब कुछ तय कर लिया गया है. उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ पांच करोड़ परिवारों यानी तकरीबन 25 करोड़ लोगों को मिलेगा.

इस न्याय योजना का लाभ कैसे मिलेगा, किन लोगों को मिलेगा राहुल गांधी ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में समझाया-

देश के गरीबों को हर साल मिलेंगे 72 हजार रुपये

देश के 20 फीसदी लोगों को मिलेगा सीधा लाभ

इस योजना के तहत देश के 5 करोड़ परिवार यानी करीब 25 करोड़ लोगों को फायदा पहुंचेगा.

स्कीम का नाम ‘न्याय योजना’ दिया गया है.

इस स्कीम का लक्ष्य हर व्यक्ति की आय 12,000 रुपये प्रति तक करना है.

इसका मतलब अगर किसी व्यक्ति की आय 8000 रुपये महीना है, तो उसे सरकार की ओर से 4000 रुपये प्रति महीना दिया है.

वहीं, अगर कोई व्यक्ति 2000 रुपए कमाता है तो उसे सरकार की ओर से 10000 रुपये प्रति महीना दिया जाएगा.

राहुल गांधी की इस स्कीम के अनुसार एक व्यक्ति के लिए 72,000 रुपये रिजर्व किए गए हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष का दावा है कि जिस तरह उन्होंने मनरेगा के जरिए गरीबों को काम दिया, उसी तरह ये मनरेगा का अगला स्टेप है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि 21वीं सदी में देश में गरीबी नहीं रह सकती है, हमारी तरफ से ये गरीबी पर आखिरी वार है.



Share your comments